ताज़ा खबर
 

क्राइम ब्रांच ने पकड़े 25 साल से फरार 2 ठग, बेचते थे जाली टिकट और किसान विकास पत्र

शाखा के अंतरराज्यीय सेल को सूचना मिली थी कि 25 साल पहले अदालत की ओर से भगोड़ा घोषित किया गया रोहताश कंवर राजीव चौक मेट्रो स्टेशन के पास अपने दोस्त से मिलने आएगा।

Author नई दिल्ली | June 5, 2016 1:55 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

क्राइम ब्रांच ने किसान विकास पत्र और जाली टिकट बेचने के मामले में 25 साल से फरार चल रही एक ठग जोड़ी को गिरफ्तार करने का दावा किया है। इनकी पहचान रोहताश कंवर और हरी नारायण के रूप में हुई है। अपराध शाखा के संयुक्त आयुक्त रवींद्र यादव ने यह जानकारी दी।

यादव के मुताबिक, शाखा के अंतरराज्यीय सेल को सूचना मिली थी कि 25 साल पहले अदालत की ओर से भगोड़ा घोषित किया गया रोहताश कंवर राजीव चौक मेट्रो स्टेशन के पास अपने दोस्त से मिलने आएगा। उसका दोस्त हरी नारायण भी इस मामले में भगोड़ा है। इस जानकारी पर एसीपी संजय सहरावत की देखरेख में इंस्पेक्टर पीसी यादव और एसआइ संदीप यादव की टीम ने छापा मारकर दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में पता चला कि 1991 में दोनों ने एक ट्रेवल एजंट के दफ्तर से चेक चोरी कर उसे भुना लिया था। इस मामले में पुलिस ने रोहताश को गिरफ्तार किया था, लेकिन हरी नारायण फरार हो गया था। उसे अदालत ने भगोड़ा घोषित कर दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App