ताज़ा खबर
 

दिल्ली: नोएडा प्राधिकरण ने NMRC को भेजा प्रस्ताव, बोड़ाकी तक होगा नोएडा ग्रेनो मेट्रो का विस्तार

नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो का अब बोड़ाकी तक विस्तार होगा। जिसका प्रस्ताव ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण आगामी बोर्ड बैठक में लाने की तैयारी कर रहा है।

मेट्रो (प्रतीकात्मक फोटो)

नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो का अब बोड़ाकी तक विस्तार होगा। जिसका प्रस्ताव ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण आगामी बोर्ड बैठक में लाने की तैयारी कर रहा है। करीब तीन किलोमीटर लंबे इस रूट पर दो से तीन मेट्रो स्टेशन बनेंगे। इससे पहले बोड़ाकी तक मेट्रो के विस्तार पर नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) से मंजूरी ली जाएगी। फिलहाल ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने एनएमआरसी को इस रूट का प्रस्ताव बनाकर भेज दिया है। बता दें कि इस रूट के तैयार होने से बोड़ाकी भी एनसीआर से जुड़ जाएगा।

बताया जा रहा है कि बोड़ाकी मेट्रो के लिए इस साल जून में काम शुरू करने और 2021 तक पूरा करने की योजना पर काम चल रहा है। बोड़ाकी को एक स्टेशन के तौर पर विकसित किया जायेगा। इसके लॉजिस्टिक और ट्रांसपोर्ट हब बनने से देश के दूसरों हिस्सों में ट्रेन चलाने की योजना है। बता दें कि यहीं पर अंतरराज्यीय बस अड्डा बनाने का भी प्रस्ताव है। गौरतलब है कि नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो लाइन का निर्माण कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है। नोएडा के सेक्टर 51 से ग्रेटर नोएडा डिपो तक 29.168 किमी लंबे ट्रैक का उद्घाटन जनवरी के अंतिम या फरवरी के पहले सप्ताह में होने की उम्मीद है। हालांकि इसका अभी तक अधिकारिक कार्यक्रम तय नहीं हुआ है। दिल्ली वासियों की सुविधा के लिए प्राधिकरण मेट्रो को बोड़ाकी रेलवे स्टेशन तक ले जाएगा।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण के अनुसार बोड़ाकी को बड़े रेलवे स्टेशन में बदलने का काम जारी है। तीन से चार वर्षों में एक्सप्रेसवे ट्रेन यहां से रवाना होंगी। हालांकि शुरुआत में सिर्फ 15-16 ट्रेनों से यह सुविधा शुरू होगी। इसके बनने के बाद मेट्रो से यात्रियों को बोड़ाकी स्टेशन तक आने में सुविधा होगी। बता दें कि अभी नोएडा, ग्रेटर नोएडा के लोग ट्रेन पकड़ने के लिए दिल्ली या गाजियाबाद जाते हैं। गौरतलब है कि ग्रेनो डिपो से बोड़ाकी तक का प्रस्ताव बनाकर एनएमआरसी को भेजा गया है। मंजूरी मिलते ही ग्रेनो प्राधिकरण की अगली बोर्ड बैठक में इसे रखा जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App