ताज़ा खबर
 

दिल्ली के पॉश इलाके के स्कूल में 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म, दिल्ली पुलिस को नोटिस

एनडीएमसी के एक स्कूल में छह वर्षीय बच्ची के कथित बलात्कार की घटना के बाद दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस और स्कूल प्राधिकार को नोटिस भेज उनसे संस्थान में सुरक्षा इंतजामों के बारे में सूचित करने को कहा है।

Author Published on: August 10, 2018 7:17 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo credit- Indian express)

एनडीएमसी के एक स्कूल में छह वर्षीय बच्ची के कथित बलात्कार की घटना के बाद दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस और स्कूल प्राधिकार को नोटिस भेज उनसे संस्थान में सुरक्षा इंतजामों के बारे में सूचित करने को कहा है। पुलिस ने बताया कि गोल मार्केट इलाके में स्थित नयी दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) के एक स्कूल में इलेक्ट्रिशियन ने कथित तौर पर स्कूल परिसर के भीतर दूसरी कक्षा की छात्रा का बलात्कार किया।

आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने पूछा है कि इलेक्ट्रिशियन की पृष्ठभूमि की जांच की गई थी या नहीं और स्कूल में सीसीटीवी कैमरे लगाने जैसे सुरक्षा उपाय किए गए हैं या नहीं। उन्होंने कहा, ‘‘ डीसीडब्ल्यू ने दिल्ली पुलिस और स्कूल प्राधिकार को नोटिस जारी कर उनसे स्कूल में सुरक्षा उपायों को लागू करने के बारे में पूछा है।’’ मालीवाल ने दावा किया कि पीड़ित बच्ची की मां का आरोप है कि स्कूल इस मामले पर लीपापोती करने की कोशिश कर रहा है।

उन्होंने पूछा कि लड़कियों के शौचालय तक पुरूष कर्मचारी कैसे पहुंचा? पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि घटना कल तब रोशनी में आई जब बच्ची ने स्कूल से लौटकर अपने माता-पिता को घटना की जानकारी दी। आरोपी राम आसरे (37) एनडीएमसी में स्थायी कर्मचारी है और इलेक्ट्रिशियन के तौर पर काम करता है । वह पिछले एक महीने से स्कूल में काम कर रहा था। पुलिस ने बताया कि आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की संबद्ध धाराओं तथा यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 दिल्ली पुलिस में आ सकती है 4000 पदों पर वैकेंसी, गृह मंत्री बोले- भर्ती प्रस्ताव पर विचार जारी
2 आरुषि मर्डर केस: तलवार दंपत्ति की रिहाई के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची सीबीआई, सुनवाई को कोर्ट तैयार
3 इंसेफेलाइटिस से कितनी मौतें हुईं, पहले रोज बताता था गोरखपुर का BRD अस्‍पताल, अब नहीं
ये पढ़ा क्या?
X