ताज़ा खबर
 

ISI के लिए जासूसी करता था दिल्ली का यह शख्स, 18 साल में 17 बार गया था पाकिस्तान

दिल्ली के एक व्यक्ति को आईएसआई (ISI) के लिए कथित तौर पर काम करने के आरोप में राजस्थान पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा है कि वह 18 साल में 17 बार पाकिस्तान जा चुका है।

crime, crime newsइस तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (फोटो सोर्स: एक्सप्रेस आर्काइव)

राजस्थान की राजधानी जयपुर में पुलिस ने एक शख्स को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी (आईएसआई) के लिए जासूसी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि गिरफ्तार किया गया शख्स दिल्ली का रहने वाला और वह बीते 18 साल में 17 बार पाकिस्तान जा चुका है। फिलहाल आरोपी को जयपुर की एक अदालत में पेश किया गया, जहां कोर्ट ने उसे चार दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है। बता दें कि आरोपी शख्स साल 2017 से न्यायिक हिरासत में था। सोमवार को उसे जयपुर पूछताछ के लिए लाया गया था, जिसके बाद उसे राजस्थान पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

18 साल में 17 बार गया पाकिस्तान: दरअसल, राजस्थान पुलिस ने सोमवार को मोहम्मद परवेज नाम के शख्स को आईएसआई के लिए कथित तौर पर काम करने के आरोप में गिरफ्तार किया था। पुलिस के मुताबिक आरोपी परवेज ने शुरुआती पूछताछ में बताया कि वह पाकिस्तान में बैठे आईएसआई के लोगों के संपर्क में था। इस दौरान उसने बताया कि वह बीते 18 साल में 17 बाजार पाकिस्तान जा चुका है। परवेज ने बताया कि आईएसआई उसे जरूरी खुफिया जानकारी जुटाने के लिए हर तरीके से सहयोग कर रही थी।

दिल्ली का रहने वाला आरोपी: आईएसआई के लिए काम करने के आरोप में गिरफ्तार किये गए आरोपी के बारे में अतिरिक्त महानिदेशक (खुफिया) उमेश मिश्रा ने बताया कि गिरफ्तार मोहम्मद परवेज दिल्ली का रहने वाला है। उन्होंने बताया कि उसे जयपुर की एक अदालत में पेश किया गया था जहां उसे चार दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया। उमेश मिश्रा के मुताबिक परवेज लोगों को पाकिस्तानी दूतावास से वीजा दिलाने के नाम पर पासपोर्ट व फोटो लेता था और फिर इसके जरिए सिम खरीदता था।

पहले भी हो चुका था गिरफ्तार: बताया जा रहा है कि आरोपी मोहम्मद परवेज को पहले भी राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने देश विरोधी गतिविधियों के चलते गिरफ्तार किया था और वह 2017 से न्यायिक हिरासत में था। उसे पूछताछ के लिए सोमवार को जयपुर लाया गया था, जिसके बाद राज्य पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया।

जवानों को हनीट्रैप में फंसाता था: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पकड़े गए आरोपी ने सेना की रणनीतिक महत्व की जानकारी जुटाने के लिए फर्जी पहचान से सेना के जवानों को भी हनीट्रैप में फंसाने की कोशिश की थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 राजस्थान पुलिस ने #Drugs और #Kalank से किया ट्वीट, वरुण धवन ने कुछ ऐसे किया रिएक्ट
2 दिल्‍ली: 18 साल पहले चुराया था VCD प्‍लेयर और साइकिल, अब जाकर पकड़ा गया शख्‍स
3 इनेलो के विधायक केहर सिंह रावत, भाजपा में शामिल
बंगाल चुनाव
X