ताज़ा खबर
 

भारतीय जनता पार्टी 45 से अधिक सीटों के साथ बनाएगी सरकार : अमित शाह

अमित शाह ने कांग्रेस व आम आदमी पार्टी पर सीधे हमले बोले। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल और राहुल बाबा को बताना चाहिए कि देश की सुरक्षा चुनावी मुद्दा क्यों नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि शाहीनबाग आम आदमी पार्टी व कांग्रेस की संयुक्त योजना है।

Author Published on: February 7, 2020 4:59 AM
दिल्ली में पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में चुनावी जनसभा को संबोधित करते अमित शाह (Photo: PTI)

गुरुवार को भाजपा के स्टार प्रचारक व गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि भाजपा को जो समर्थन मिल रहा है, उससे साफ है कि 11 फरवरी को दिल्ली में 45 से अधिक सीट के साथ दिल्ली में भाजपा की सरकार बनाने जा रही है। अमित शाह ने बताया कि चुनाव के दौरान दिल्ली की जनता से संवाद करने का मौका मिला। उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता को झूठे वादे, तुष्टिकरण और अराजकता नहीं, केवल विकास चाहिए। गृह मंत्री ने गुरुवार को सीमापुरी, हरिनगर और मादीपुर विधानसभा क्षेत्र में रोड शो किया और भाजपा के लिए वोट मांगे।

अमित शाह ने कांग्रेस व आम आदमी पार्टी पर सीधे हमले बोले। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल और राहुल बाबा को बताना चाहिए कि देश की सुरक्षा चुनावी मुद्दा क्यों नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि शाहीनबाग आम आदमी पार्टी व कांग्रेस की संयुक्त योजना है। अरविंद केजरीवाल और राहुल गांधी को इस बात की चिंता है कि शाहीनबाग पर चर्चा नहीं होनी चाहिए। अमित शाह ने कहा कि मैं पूछना चाहता हूं कि वे बताएं देश की सुरक्षा चुनावी मुद्दा क्यों नहीं होना चाहिए? क्यों शाहीनबाग में बैठे लोग जिन्ना वाली आजादी मांग रहे हैं और क्यों टुकड़े-टकड़े गैंग उन्हें समर्थन दे रही है। इन लोगों शर्म आनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मैं आप सबको बता देना चाहता हूं कि टुकड़े-टुकड़े को गैंग झटका लगने वाला है।

अमित शाह ने कहा कि 8 फरवरी को लोग अपने पूरे परिवार के साथ बूथ पर कमल के निशान पर बटन दबाने जा रहे हैं। मतदाता इस बार दिल्ली और देश के विकास व सुरक्षा को सुनिश्चित करने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि एयर स्ट्राइक के बाद पूरा देश सेना के शौर्य को सलाम कर रहा था जबकि राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल और पाकिस्तान में बैठा इमरान खान मातम मना रहा था। आप पार्टी ने पिछले पांच सालों में दिल्ली में कोई कार्य नहीं किया है। उन्होंने कहा कि आप पार्टी का दावा था कि 500 स्कूल, 50 कॉलेज व 5000 नई बसें चलाएंगे। उन्होंने सवाल किया कि दिल्ली की जनता जानना चाहती है कि सब वादे कहां गए। इन वादों में दिल्ली को लंदन बनाने का दावा था।

अमित शाह ने कहा कि आज दिल्ली की सड़कों पर गड्ढा हैं या गड्ढे में सड़क है, यह समझ में ही नहीं आ रहा है। उल्टा इन्होंने दिल्ली की जनता को केन्द्र सरकार की योजनाओं का लाभ लेने नहीं दिया। उन्होंने सवाल किया कि आयुष्मान भारत योजना को दिल्ली में लागू क्यों नहीं होने दी। सीधी सी बात है कि इनकी कथनी और करनी में जमीन आसमान का अंतर है। इन सभाओं में प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी, लोजपा नेता चिराग पासवान और मनजिन्दर सिंह सिरसा समेत अन्य नेता भी उपस्थित थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X