UP के चुनावी मौसम में अरविंद केजरीवाल के होर्डिंग पर पुती कालिख, सरयू तट पर आरती के बाद रामलला दर्शन को पहुंचे दिल्ली के सीएम

दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को अयोध्या में रामलला के दर्शन किए। इस दौरान उन्होंने कहा कि सभी देशवासी खुशहाल रहें, यही प्रार्थना है मेरी।

kejriwal ayodhya visit ram lalla
राम लला के दर्शन करते सीएम केजरीवाल (फोटो- वीडियो स्क्रीनशॉट @AAPUttarPradesh

अपने दो दिवसीय यूपी के दौरे पर पहुंचे दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को अयोध्या में रामलला का दर्शन किया। इससे पहले उन्होंने सोमवार शाम को सरयू तट पर आरती में भी भाग लिया। हालांकि इस दौरे के दौरान उनका विरोध भी हुआ। अयोध्या में लगाए गए उनके होर्डिंग पर कालिख पोत दी गई।

आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल पहली बार रामलला के दर्शन करने पहुंचे थे। दर्शन करने के बाद मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा- “सोमवार रात को, सरयू मां की आरती की थी हमलोगों ने, आज सुबह हनुमान गढ़ी जाके, हनुमान जी के दर्शन किए और अभी श्री रामचंद्र जी के दर्शन किए हैं”।

उन्होंने कहा- मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं, अपने देश के लिए कि सभी देशवासी हमेशा खुश रहें, सबका मंगल हो, जो कोरोना से देश पीड़ित है, वो कोरोना बीमारी खत्म हो। सब लोग देश के अंदर सुख शांति से जिएं और खूब विकास हो हमारे देश का। ऐसी मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं। आज मुझे सौभाग्य प्राप्त हुआ भगवान जी के दर्शन करने का”।

इसके बाद केजरीवाल ने यूपी चुनाव को लेकर कहा कि अगर यूपी में हमारी सरकार बनती है तो दिल्ली की तरह यूपी में भी हमलोग जनता के लिए फ्री में रामलला के दर्शन कराने की व्यवस्था करेंगे। इससे पहले केजरीवाल ने सरयू तट पर आरती में शामिल होने के बाद कहा था- “मां सरयू नदी से दिल्‍ली, उत्तर प्रदेश और पूरे भारत वर्ष के कल्‍याण के लिए प्रार्थना करता हूं। पूरा देश कोरोना नाम की महामारी से पीड़ित है, पिछले कुछ दिनों से कुछ नियंत्रण है, लेकिन मैं समझता हूं कि भगवान राम, देवताओं की और मां सरयू नदी की कृपा होगी तो जरूर हम सब लोगों को इस महामारी से मुक्ति मिलेगी।”

केजरीवाल का यह दौरा यूपी चुनाव से ही जोड़कर देखा जा रहा है। आम आदमी पार्टी पहले ही यूपी में विधानसभा चुनाव में उतरने का ऐलान कर चुकी है। आप संयोजक भी विस्तार को लेकर यूपी में पार्टी के लिए संभावनाएं तलाश रहे हैं। इसी को लेकर पहले यूपी आप प्रभारी संजय और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी अयोध्या का दौरा कर चुके हैं। पार्टी के कई नेता काफी पहले से यूपी में जनसमर्थन जुटाने की कोशिशों में लगे हैं।

इससे पहले बसपा, असदुद्दीन ओवैसी भी अपनी चुनावी अभियान के तहत अयोध्या पहुंच चुके हैं। इस दौरान इनका भी विरोध हुआ था। बसपा ने यहां ब्राह्मण सम्मेलन करके अपने अभियान की शुरूआत की थी। तब बसपा नेता सतीश मिश्रा ने यहां रामलला के दर्शन किए थे। सरयू आरती में भी शामिल हुए थे। इस दौरान उन्होंने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। हालांकि बसपा के इस कार्यक्रम को भी संतों का विरोध झेलना पड़ा था।

इसी तरह जब ओवैसी भी अयोध्या अपने चुनावी अभियान के तहत पहुंच चुके हैं। तब उन्होंने अपने होर्डिंग पर अयोध्या की जगह फैजाबाद लिखवाया था। जिसे लेकर बहुत हंगामा मचा था। संतों के साथ-साथ अयोध्या के मुस्लिम समाज ने भी ओवैसी का विरोध किया था।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट