Delhi Chief Secretary assault case Police to question Arvind Kejriwal on May 18-अरव‍िंद केजरीवाल से पूछताछ करेगी द‍िल्‍ली पुल‍िस, ये है केस - Jansatta
ताज़ा खबर
 

अरव‍िंद केजरीवाल से पूछताछ करेगी द‍िल्‍ली पुल‍िस, ये है केस

मुख्यमंत्री आवास पर मीटिंग के दौरान दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश की कथित पिटाई के मामले में दिल्ली पुलिस मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से पूछताछ करेगी। पुलिस ने पूछताछ के लिए 18 मई की तारीख तय की है।

Author नई दिल्ली | May 16, 2018 3:09 PM
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री आवास पर मीटिंग के दौरान दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश की कथित पिटाई के मामले में दिल्ली पुलिस मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से पूछताछ करेगी। पुलिस ने पूछताछ के लिए 18 मई की तारीख तय की है।चार महीने पहले हुई घटना के चलते दिल्ली सरकार और नौकरशाही के बीच गतिरोध की स्थिति उत्पन्न हुई थी।
एडिशनल डीसीपी(नार्थ) हरेंद्र सिंह ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि सीआरपीसी के अंडर सेक्शन 160 के तहत अरविंद केजरीवाल को नोटिस जारी कर जांच से जुड़ने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि हमने अरविंद केजरीवाल को स्थान तय करने का विकल्प दिया है, या तो वह घर पर सवालों का जवाब दे सकते हैं या फिर दफ्तर में। मुख्य सचिव की कथित पिटाई के मामले में पुलिस पहले ही 11 विधायकों से पूछताछ कर चुकी है।

ये सभी विधायक 19 फरवरी को घटना वाली रात दिल्ली के मुख्यमंत्री आवास पर मीटिंग के दौरान उपस्थित थे।पिछले महीने जांच के दौरान पुलिस ने दावा किया था कि मुख्यमंत्री आवास पर सुनियोजित तरीके से मुख्य सचिव पर हमले की घटना हुई थी।इस पर आम आदमी पार्टी ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा था कि दिल्ली पुलिस जानबूझकर घटना से मुख्यमंत्री का नाम जोड़ने की कोशिश कर रही है।

मीटिंग के दौरान उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया और पूर्व सलाहकार वीके जैन भी मौजूद थे।इससे पहले घटना के पांचवें दिन पुलिस ने मुख्यमंत्री आवास का सीसीटीवी कैमरा जब्त कर हार्डडिस्क जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेजी थी। पुलिस अब भी रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।हाल में दिल्ली के शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन ने मुख्य सचिव अंशु प्रकाश को सरकार के कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में बाधा उत्पन्न करने वाला करार दिया था, जिस पर प्रकाश ने आरोप को खारिज करते हुए कहा था कि विभाग के कार्यों के लिए प्रभारी मंत्री ही जिम्मेदार होते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App