ताज़ा खबर
 

दिल्ली का हाल: लड़के को रौंद कर घसीट ले गई बस, मदद के बजाय वीडियो बनाते रहे लोग

दिल्ली के मुखर्जी नगर में बुधवार (28 फरवरी) को एक बस ने एक किशोर को रौंद दिया, उसे जब अस्पताल ले जाया गया तो डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस के मुताबिक किशोर बाइक से जा रहा था, तभी बेहूदगी से बस चला रहे ड्राइवर ने उस पर गाड़ी चढ़ा दी।

Student, body, found, toilets, questions, school, administration, Jyoti Public School, Karwal Nagar, New Delhiतस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

दिल्ली के मुखर्जी नगर में बुधवार (28 फरवरी) को एक बस ने एक किशोर को रौंद दिया, उसे जब अस्पताल ले जाया गया तो डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस के मुताबिक किशोर बाइक से जा रहा था, तभी बेहूदगी से बस चला रहे ड्राइवर ने उस पर गाड़ी चढ़ा दी, किशोर बस के पहिए के नीचे आ गया। पुलिस ने बताया कि किशोर बस के नीचे आकर कई मीटर तक घसिटते हुए चला गया, लेकिन मौके स्थानीय लोग तमाशबीन बने रहे और उसकी मदद करने के बजाय अपने-अपने मोबाइल पर वीडियो बनाते रहे। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक पुलिस ने बताया कि लड़के के सिर से खून बह रहा था, लेकिन मौके पर मौजूद किसी शख्स ने उसे अस्पताल तक पहुंचाने की जहमत नहीं उठाई, और जब किशोर को अस्पताल पहुंचाया गया, तब तक बहुत देर हो चुकी थी, उसकी जान नहीं बचाई जा सकी।

पुलिस के मुताबिक मृतक की पहचान यश कपूर के नाम से हुई है। हादसे के वक्त किशोर ने हेलमेट नहीं पहना था, इस वजह से सिर में गंभीर चोटें आईं। पुलिस ने बताया कि बस के मालिक से संपर्क करने के बाद आरोपी ड्राइवर की पहचान हो गई है, वह एक्सपायर हो चुके लाइसेंस पर गाड़ी चला रहा था। पुलिस ने मुखर्जी नगर थाने में ड्राइवर के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली है। पुलिस ने बताया कि यश अपने पिता संजीव कपूर और मां रिचा कपूर के साथ मुखर्जी नगर में रहता था। हादसे के दिन वह स्कूल नहीं गया था।

यश के परिवारवालों के मुताबिक बुधवार की सुबह वह सब्जियां लाने के लिए घर से निकला था। जब वह नहीं लौटा तो घरवालों ने उसे खोजा और उन्हें हादसे का पता चला। यश के हादसे की खबर फैलने के बाद दोस्त और स्कूल के शिक्षक उसके घर पहुंचे। पुलिस ने बताया कि जिस बस ने यश को रौंदा, उसे ड्राइवर बड़ी ही बेहूदगी से चला रहा था। पुलिस ने बताया कि आरोपी ड्राइवर हादसे के बाद बस को लावारिस छोड़कर मौके से फरार हो गया था, यश के पार्थिव शरीर को पोस्टमार्टम के लिए बाबू जगजीवन राम अस्पताल ले जाया गया था, जहां से उसे अंतिम संस्कार के लिए परिवावालों को सौंप दिया गया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 डॉक्टरों की पिटाई, एलएनजेपी में काम ठप
2 दिल्ली : बारात में चली गोली, दूल्हे की मौत
3 कनॉट प्लेस में लूटपाट का विरोध करने पर मारी गोली
IPL 2020 LIVE
X