Delhi Book Fair 2016: From musical pens to scrapbooks, stationary a draw at Book Fair - Jansatta
ताज़ा खबर
 

Delhi Book Fair: प्रगति मैदान में लगे मेले में किताबें ही नहीं स्टेशनरी भी लुभा रही है लोगों का ध्यान

राष्ट्रीय राजधानी में चल रहे दिल्ली पुस्तक मेले में लोग ना सिर्फ दुर्लभ किताबों की तलाश में आ रहे हैं बल्कि विभिन्न तरह की स्टेशनरी भी लोगों को आकर्षित कर रहे हैं।

Author नई दिल्ली | August 31, 2016 2:58 PM
(Express Photo)

राष्ट्रीय राजधानी में चल रहे दिल्ली पुस्तक मेले में लोग ना सिर्फ दुर्लभ किताबों की तलाश में आ रहे हैं बल्कि विभिन्न तरह की स्टेशनरी भी लोगों को आकर्षित कर रहे हैं। कार्यालयों और घरों में काम में आने वाले विभिन्न तरह के कलमों, पेंसिलों, कागजों और निमंत्रण पत्रों के अलावा फाउंटेन पैन के लिए संगीतमय निब भी लोगों को लुभा रही है। हालांकि इसका उपयोग संगीत बजाने के लिए नहीं किया जाता है लेकिन इन विशेष निब का उपयोग संगीत की धुनों को लिखने के लिए किया जा सकता है।

इसके अतिरिक्त हवाई जहाज के धातु से बने कलम को लेकर भी लोगों में उत्साह है। कक्षा दस में पढ़ने वाले भानू के मुताबिक, ‘‘ मुझे इस बात की आशा नहीं थी कि पुस्तक मेले में इतने तरह के स्टेशनरी के सामान मिलेंगे। मैं कुछ किताबें नहीं ले पाया और ज्यादा रूपये स्टेशनरी के सामानों पर खर्च दिये।

कलम, डायरी और कैलेंडर जैसी पारंपरिक सामग्रियों के अतिरिक्त ग्राहकों को बहु-उद्देश्यीय वाला पेपर मार्कर, पेपर लालटेन और हस्तनिर्मित स्क्रैप बुक के विकल्प भी मिल रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App