ताज़ा खबर
 

दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र आज

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व दिल्ली विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष अजय माकन ने दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल को रविवार को एक पत्र लिखकर विधानसभा सत्र के एजंडे को लेकर अपना असंतोष व दुख जताया है। उन्होंने पत्र में कहा है कि प्रदूषण की समस्या, सीलिंग का संकट, डेंगू आदि ज्वलंत जनहित के मुद्दों को छोड़कर मुख्यमंत्री पर मिर्च पाउडर फेंके जाने सरीखे व्यक्तिगत मुद्दे पर विधानसभा का सत्र नहीं बुलाया जाना चाहिए।

Author November 26, 2018 8:44 AM
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर मिर्च पाउडर फेंके जाने और मतदाता सूची से दिल्ली के लाखों मतदाताओं के नाम काटे जाने के मुद्दे पर सोमवार को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया जाएगा। इस एकदिवसीय सत्र के एजंडे को लेकर विपक्ष ने सवाल उठाए हैं, वहीं विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल का कहना है कि विधानसभा सत्र का एजंडा तय करना मंत्रिमंडल का अधिकार है। मुख्यमंत्री केजरीवाल की अध्यक्षता में बीते गुरुवार को हुई दिल्ली मंत्रिमंडल की बैठक में एकदिवसीय विशेष सत्र के आयोजन का फैसला किया गया था। इस सत्र के एजंडे की आलोचना करते हुए विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता ने रविवार को दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार की तीखी आलोचना की। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने सिर्फ सियासत को ध्यान में रखकर इस सत्र का आयोजन किया है, जनहित के मुद्दों पर चर्चा करने की उसे कोई जरूरत महसूस नहीं होती। गुप्ता ने एक बयान में कहा कि इसमें कोई दो राय नहीं कि मुख्यमंत्री पर मिर्च पाउडर फेंकना सरासर गलत है, लेकिन केजरीवाल को बताना चाहिए कि उन्होंने कांग्रेस नेता पी चिदंबरम पर जूता फेंकने वाले को अपनी पार्टी में महत्त्वपूर्ण ओहदे से क्यों नवाज दिया।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व दिल्ली विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष अजय माकन ने दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल को रविवार को एक पत्र लिखकर विधानसभा सत्र के एजंडे को लेकर अपना असंतोष व दुख जताया है। उन्होंने पत्र में कहा है कि प्रदूषण की समस्या, सीलिंग का संकट, डेंगू आदि ज्वलंत जनहित के मुद्दों को छोड़कर मुख्यमंत्री पर मिर्च पाउडर फेंके जाने सरीखे व्यक्तिगत मुद्दे पर विधानसभा का सत्र नहीं बुलाया जाना चाहिए। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष से आग्रह भी किया कि वे ऐसे सत्रों के आयोजन की अनुमति न दें। गोयल ने इस संबंध में पूछने पर कहा कि सबसे पहली बात यह है कि विधानसभा सत्र का एजंडा क्या हो, यह तय करना मंत्रिमंडल का अधिकार है। इसमें विधानसभा अध्यक्ष की कोई भूमिका नहीं होती।

सदन के भीतर व बाहर सरकार को घेरेगी भाजपा: आम आदमी पार्टी (आप) सरकार को घेरने के लिए भाजपा ने दो स्तरीय रणनीति तैयार की है। सोमवार को होने वाले विधानसभा के विशेष सत्र में भाजपा के विधायक ‘आप’ सरकार को सदन के अंदर तो पार्टी कार्यकर्ता बाहर से घेरेंगे। इसके लिए भाजपा ने विधानसभा के बाहर प्रदर्शन कर ‘आप’ सरकार की नीतियों को बेनकाब करने की तैयारी की है। विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि सदन में फर्जी राजनीतिक मुद्दों को भुनाने की कोशिश की जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App