ताज़ा खबर
 

Delhi: एम्स में पहले से नहीं कराई बुकिंग तो सर्जरी से किया इनकार, तड़पती रही गर्भवती; बच्चे की मौत

एम्स के डायरेक्टर ने कहा कि यहां काफी समय से नियम है कि प्रेग्नेंसी के मामले में इमरजेंसी में सिर्फ पहले से बुकिंग वाले मरीजाें काे ही देखा जाता है। लेकिन फिर भी शिकायत के आधार पर जांच की जाएगी।

aiims mbbs result, aiims mbbs, aiims mbbs result 2019, mbbs result 2019, aiimsexams.org, mbbs.aiimsexams.org, aiims mbbs delhi, aiims delhi, aiims mbbs result download, aiims mbbs result 2019 download, aiims mbbs result 2019 link, aiims mbbs result 2019 rank card, aiims mbbs result 2019 cut off, aiims mbbs result 2019 scorecardअखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS)

देश की राजधानी दिल्ली स्थित एम्स से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गंभीर हालत में लाई गई एक गर्भवती का सिजेरियन करने से सिर्फ इसलिए इनकार कर दिया गया, क्याेंकि महिला ने इसके लिए पहले से बुकिंग नहीं कराई थी। बताया जा रहा है कि डाॅक्टर ने ऑपरेशन करने से मना कर दिया, जिसके बाद गर्भ में ही बच्चे की माैत हाे गई। परिजनों का आरोप है कि यदि एम्स मरीज को भर्ती कर लेता तो बच्चे की जान बच सकती थी। फिलहाल मामले में एम्स प्रशासन ने शिकायत मिलने के हफ्ते भर बाद जांच कमेटी गठित कर दी है। महिला अब भी आईसीयू में भर्ती है।

National Hindi News 28 June 2019 LIVE Updates: दिन भर की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

क्या है मामला: दैनिक भास्कर में छपी खबर के मुताबिक बिहार के पश्चिमी चंपारण की किरण देवी (28 ) को सांस लेने में तकलीफ होने पर दिल्ली के एम्स की इमरजेंसी में भर्ती कराया गया। इसके बाद एम्स के काॅर्डियाेलाॅजिस्ट ने चेकअप के बाद गायनेकाेलाॅजिस्ट डाॅक्टर की पास जाने की सलाह दी। बताया जा रहा है कि रात में 12 बजे के करीब गायनेकाेलाॅजिस्ट को कॉल करने के बाद एक सीनियर रेजिडेंट ने पहुंचकर महिला को चेक किया। बताया जा रहा है कि उस समय गर्भस्थ बच्चे की सांसे चल रही थी। यही नहीं इमरजेंसी के डॉक्टरों ने भी कहा कि बच्चा ठीक है। इस दौरान महिला को सिजेरियन की सलाह दी गई लेकिन आरोप है कि महिला डाॅक्टर ने मरीज की पहले से एम्स में कोई बुकिंग नहीं होने का हवाला देते हुए सीजेरियन करने से इनकार कर दिया।

बच्चे की मौत: आराेप है कि डॉक्टर ने मरीज की मौत होने पर ही सर्जरी करने की बात कही। इसके बाद रात करीब दो बजे गर्भवती के बच्चे की धड़कन बंद हो गई। जिसके बाद मरीज के परिजनों का कहना है कि यदि अस्पताल गर्भवती को भर्ती कर लेता तो बच्चा बच सकता था। बताया जा रहा है कि महिला की हालत अभी गंभीर बनी हुई है।

जांच टीम गठित: 8 जून को हुई इस घटना काे लेकर एम्स प्रशासन ने करीब 10 दिन बाद अब जांच के लिए कमेटी गठित की है। जिसमें 4 डॉक्टरों की जांच कमेटी की रिपोर्ट देगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Chennai: पत्नी और मां समेत इस टीवी पत्रकार की घर में मिली लाश, पुलिस ने बताई मौत की यह वजह
2 मुंबई: मुस्लिम कैब ड्राइवर की बीच सड़क पर पिटाई, लगवाए जय श्रीराम के नारे
3 Bihar: ‘तेज सेना’ की आज होगी लांचिंग, BJP का तंज- तेजस्वी से ज्यादा गुणी हैं तेजप्रताप