ताज़ा खबर
 

AAP नेता का आरोप: बीजेपी ने दिल्ली में कटवाए 30 लाख मतदाताओं के नाम, इन्हें जुड़वा रहे केजरीवाल

आम आदमी पार्टी के साउथ दिल्ली लोकसभा प्रभारी राघव चड्ढा ने बीजेपी पर मतदाता सूची में गड़बड़ी का आरोप लगाया है।

राघव चड्ढा और दिल्ली सीएम केजरीवाल फोटो सोर्स- ट्विटर

आम आदमी पार्टी (आप) के नेता और साउथ दिल्ली लोकसभा प्रभारी राघव चड्ढा ने बीजेपी पर मतदाता सूची में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। चड्ढा ने कहा कि बीजेपी ने चुनाव आयोग के कुछ अधिकारियों से मिलकर दिल्ली की मतदाता सूची से 30 लाख लोगों के नाम हटवाए है। लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी आप ने दिल्ली की सातों सीटों पर बीजेपी की हार की बात कही है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने मतदाता सूची से नाम कटवाए हैं और अब केजरीवाल नाम जुड़वा रहें हैं। इसके बाद भी आरोप उन पर ही लगाए जा रहे हैं।

आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर चुनावी तैयारी में जुटे आप नेता राघव चड्ढा ने कहा, ‘पिछले कुछ महीने से हम लगातार ऐसे मामले मीडिया के माध्यम से सामने ला रहे हैं। इन मामलों से स्पष्ट होता है कि बीजेपी ने चुनाव आयोग के कुछ अधिकारियों से मिलकर बड़े स्तर पर मतदाता सूची में गड़बड़ी कराई है। बीजेपी ने जानबूझकर मतदाता सूची से नाम कटवाए हैं।’ राघव ने आरोप लगाया कि बीजेपी दिल्ली की सातों लोकसभा सीटें हार रही हैं। इसलिए सत्ता में बने रहने के लिए वह असंवैधानिक तरीके का सहारा ले रही है।

उन्होंने कहा कि बीजेपी ने नागरिको के वोटिंग अधिकार छीनने की कोशिश की है। आम आदमी पार्टी बहुत बड़े स्तर पर वोटर रजिस्ट्रेशन करवा रही है। वह फॉर्म भरवाकर लोगों को बता रही है कि कैसे उनके नाम बीजेपी ने मतदाता सूची से हटा दिये है। उन्होंने मनोज तिवारी और बीजेपी को दिल्ली के लोगों से माफी मांगने की बात कही। राघव के अनुसार दिल्ली में कम से कम 24 लाख मतदाताओं की पहचान की गई है, जो कुल मतदाताओं का 25 पर्सेंट है। उन्होंने कहा अनुमान है कि 7-8 लाख मतदाता ऐसे हैं जिनके नाम मतदाता सूची से हटा दिए गए हैं।

बता दें कि हाल ही में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी द्वारा लगाए गए आरोप को राघव चड्ढा ने बेबुनियाद करार दिया। उन्होंने कहा कि मतदाता सूची से नाम बीजेपी ने कटवाए हैं और केजरीवाल जुड़वा रहे हैं, फिर भी बीजेपी उन पर ही आरोप लगा रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App