ताज़ा खबर
 

छात्रों को पैसे देगी दिल्ली की केजरीवाल सरकार, दसवीं से लेकर कॉलेज तक हर साल मिलेगी रकम

आप सरकार हर साल 11वीं और 12वीं के छात्रों को 1000 रुपए देगी जबकि सरकारी कॉलेज के छात्रों को हर साल 5000 रुपए प्रदान करेगी। इस दौरान उन्हें उद्यमी बनने के गुर सिखाए जाएंगे।

दिल्ली शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (फोटो सोर्स- ट्विटर/मनीष सिसोदिया)

दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने छात्रों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए बड़ा फैसला लिया है। आप सरकार हर साल 11वीं और 12वीं के छात्रों को 1000 रुपए देगी जबकि सरकारी कॉलेज के छात्रों को हर साल 5000 रुपए प्रदान करेगी। इस दौरान उन्हें उद्यमी बनने के गुर सिखाए जाएंगे।शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया बुधवार को इस फैसले की घोषणा के दौरान कहा कि देश में सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी की है। छात्रों को पढ़ाकर और उन्हें उद्यमिता सिखाकर आगे बढ़ाया जा सकता है। छात्रों को नौकरी ढ़ूढ़ने वाला नहीं बल्कि नौकरी देने वाला बनाना चाहिए।

त्यागराज खेल परिसर में संबोधन के दौरान मनीष सिसोदिया ने कहा कि छात्रों को इस कोर्स में व्यापार और जीवन में रिस्क लेने के गुर सिखाए जाएंगे। सिसोदिया ने कहा कि अगर इनमें से एक प्रतिशत छात्र भी उद्यमी बन गए तो तो भारत सुपरपावर बन जाएगा।मनीष सिसोदिया ने विदेशी राजनयिकों द्वारा सरकार की तारीफ की बात बताते हुए कहा कि अक्सर सरकार द्वारा चलाए जा रहे हैप्पीनेस करिकुलम की तारीफ होती है।

सिसोदिया ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था इसलिए नहीं आगे बढ़ रही क्यों नौकरी देने वालों की संख्या कम है और नौकरी ढूंढने वालों की संख्या ज्यादा है। अक्सर मैं छात्रों से पूछता रहता हूं कि कौन-कौन नौकरी करना चाहता है इस सवाल पर सभी छात्र हाथ उठाते हैं लेकिन अगर सभी छात्र नौकरी करेंगे तो फिर नौकरियों का सृजन कौन करेगा? सिसोदिया न ने कहा कि इस सवाल का जवाब हमारे नए पाठ्यक्रम में है।

मंच पर मौजूद उद्यमी बिन्नी बंसल और महाशय धर्मपाल हट्टी गुलाटी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि जब देश की अर्थव्यवस्था खतरे में हो तो देश के लिए नौकरियों का सृजन करना सच्ची देशभक्ति है। इस पाठ्यक्रम से बच्चों के अंदर रिस्क लेने की क्षमता बढ़ेगी और वह कुछ नया रचनात्मक करने से डरेंगे नहीं।

दिल्ली सरकार अगले वित्तीय वर्ष के बजट में 50 करोड़ रुपए छात्रों की इस योजना के लिए जोड़गी ताकि छात्रों को यह पैसे मिल पाएं और वह हर नए व्यापार के बारे में सोच सकें।इस दौरान एजुकेशन सेक्रेटरी ने कहा कि असल उद्यमी वही है जो खुद पर विश्वास कर सके और समस्याओं को सुलझा सके। इस दौरान फ्लिपकार्ट के को-फाउंडर बिन्नी बंसल ने कहा कि वह उद्यमी बनने से ही नौकरियों का सृजन होगा हमें अपनी मानसिकता बदलनी होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App