ताज़ा खबर
 

क्रिकेटर की मां को रात में घर बुलाया डीडीसीए अधिकारी ने : केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक टीवी इंटरव्यू में संगीन आरोप लगाया है कि डीडीसीए के एक अधिकारी ने एक जूनियर क्रिकेटर की मां को फोन पर संदेश भेज कर ‘रात को अपने घर आने’ को कहा...

Author नई दिल्ली | December 30, 2015 1:39 AM
arvind kejriwal, kejriwal, kejriwal news, cbi raids, raids, manish sisodia, satyendra jain, pmo, aap, aap leader, delhi chief minister, kejriwal news, केजरीवाल सीबीआई छापा, केजरीवाल सिसोदिया सत्‍येंद्र जैन, सिसोदिया छापा, केजरीवाल सीबीआई, केजरीवाल मोदी, latest news in HINDIदिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो)

दिल्ली व जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) का विवाद और गहरा गया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक टीवी इंटरव्यू में संगीन आरोप लगाया है कि डीडीसीए के एक अधिकारी ने एक जूनियर क्रिकेटर की मां को फोन पर संदेश भेज कर ‘रात को अपने घर आने’ को कहा। एक अंग्रेजी समाचार चैनल को दिए इंटरव्यू में केजरीवाल ने दावा किया कि यह महिला एक वरिष्ठ पत्रकार की पत्नी हैं, जिनका बेटा दिल्ली की एक जूनियर टीम में जगह बनाने की कोशिश कर रहा था। केजरीवाल के मुताबिक, यह पत्रकार डीडीसीए में चयन घोटाले के बारे में बताने के लिए, दिल्ली सरकार के बनाए जांच आयोग के सामने आने को तैयार हैं।

केजरीवाल ने कहा, उनका (वरिष्ठ पत्रकार का) बेटा क्रिकेट खेलता है। उन्होंने मुझे बताया कि उनके पास फोन कॉल आई कि उनके बेटे का चयन हो गया है। लेकिन शाम को जब लिस्ट आई तो उसमें बेटे का नाम नहीं था। क्या आप यकीन कर सकते हैं कि अगले दिन उन पत्रकार की पत्नी को एसएमएस आया कि आप रात को मेरे घर आएं। आपके बेटे का चयन हो जाएगा। इंडियन एक्सप्रेस को पता चला कि यह घटना करीब एक महीने पहले हुई जब डीडीसीए में अंडर 14 और अंडर 16 टीमें चुनी जा रही थीं। सूत्रों ने कहा कि टीमों के चयन में पैसा तो खाया जाता है लेकिन केजरीवाल जो आरोप लगा रहे हैं, वह काफी संगीन है।

एक डीडीसीए अधिकारी ने कहा कि चूंकि अंडर 14 के लिए कोई लीग नहीं होती है और डीडीसीए में स्कूल क्रिकेट सर्किट भी विकसित नहीं हुआ है, इसलिए टीमों का चयन ओपन ट्रायल से होता है। हर साल कई युवा क्रिकेटर और उनके माता पिता इस उम्मीद के साथ कोटला आते हैं कि चयन मेरिट के आधार पर होगा लेकिन ऐसा होता नहीं है। इस सीजन में अंडर 14 और अंडर 16 के लिए एक हजार से ज्यादा जूनियर क्रिकेटर आए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जामिया के समारोह में शामिल नहीं हो पाएंगे प्रधानमंत्री
2 बर्खास्त वायुसेना अधिकारी ‘आइएसआइ’ के लिए जासूसी में गिरफ्तार
3 रामदेव के जेएनयू जाने पर संशय
ये पढ़ा क्या?
X