ताज़ा खबर
 

Pulwama Attack: आतंकी हमले से 10 दिन पहले मसूद अजहर ने किया था यह दावा, ऑडियो टेप से हुआ खुलासा

पुलवामा आतंकी हमले के सबूत के तौर पर भारत सरकार ने पाकिस्तान को एक ऑडियो टेप सौंपा है। इसमें हमला अंजाम देने से 10 दिन पहले मसूद अजहर ने अपने समर्थकों से कहा था कि कश्मीर अब जल्द ही आजाद हो जाएगा।

Masood Azharमसूद अजहर। फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमला अंजाम देने से 10 दिन पहले मसूद अजहर ने अपने समर्थकों से कहा था कि कश्मीर अब जल्द ही आजाद हो जाएगा। सूत्रों के मुताबिक, यह खुलासा एक ऑडियो टेप से हुआ है, जो भारत सरकार ने सबूत के रूप में पाकिस्तान को सौंपा है। बता दें कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

यह है ऑडियो में : सूत्रों के मुताबिक, पुलवामा आतंकी हमले में जैश-ए-मोहम्मद और मसूद अजहर का हाथ होने के सबूत के रूप में भारत सरकार ने पाकिस्तान को एक ऑडियो भेजा है। इसमें जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर की आवाज है। वह कह रहा है, ‘‘कश्मीर के बिना पाकिस्तान अधूरा है। कश्मीर जल्द ही आजाद होगा और भारत के सभी मुसलमानों को भी आजादी मिलेगी।’’ उस दौरान मसूद ने कश्मीर में मारे गए आतंकियों को श्रद्धांजलि भी दी थी। माना जा रहा है कि मसूद ने यह भाषण 5 फरवरी को दिया था।

अमेरिका-भारत का जिक्र : इस ऑडियो में मसूद अजहर अफगानिस्तान में अमेरिका और कश्मीर में भारत की स्थिति की बात कर रहा है। उसने कहा, ‘‘अफगानिस्तान में अमेरिका बातचीत के लिए तैयार हो चुका है। वहीं, अगले कश्मीरी एकजुटता दिवस से पहले भारत भी बातचीत के लिए भीख मांगेगा। अगर कश्मीर के सभी मुस्लिम भारत के खिलाफ हो जाएं तो एक महीने में ही जीत मिल जाएगी।’’

जैश पर प्रतिबंध लगाने की मांग : बता दें कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत सरकार लगातार आतंकी संगठन जैश-मोहम्मद पर वैश्विक प्रतिबंध लगाने की मांग कर रही है। इसके लिए भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में यह ऑडियो भी पेश किया था। ऐसे में पाकिस्तान के विदेश मंत्री माना था कि मसूद अजहर पाकिस्तान में ही है। हालांकि, उन्होंने कहा था कि वह काफी ज्यादा बीमार है।

खुफिया एजेंसियों का यह है अनुमान : दिल्ली के नॉर्थ ब्लॉक के एक आला अधिकारी का कहना है कि इस ऑडियो से यह साफ हो गया कि पठानकोट, उरी और पुलवामा हमलों का मास्टरमाइंड मसूद अजहर लगातार भारत विरोधी गतिविधियों को अंजाम देने में जुटा हुआ है। बता दें कि इस ऑडियो में मसूद ने पुलवामा हमले का सीधे कोई जिक्र नहीं किया, लेकिन खुफिया एजेंसियों का अनुमान है कि कश्मीर में एकता का आह्वान करके वह बड़ा हमला करने की तैयारी कर रहा था। हालांकि, खुफिया एजेंसिया सही वक्त पर इस मैसेज को डिकोड नहीं कर सकीं, जिसके चलते पुलवामा हमला हो गया।

भारत के डॉजियर में जिक्र : जैश-ए-मोहम्मद की गतिविधियों को लेकर बने डॉजियर में भारत ने 40 आतंकियों का जिक्र किया है। ये सभी पाकिस्तानी नागरिक हैं, जिन्हें बालाकोट स्थित ट्रेनिंग कैंप में ट्रेंड किया गया। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों के पास भी इस कैंप में ट्रेंड होने वालों के नाम और डिटेल मौजूद है। एक अधिकारी के मुताबिक, ये आतंकी पाकिस्तान के 8 अलग-अलग जिलों से ताल्लुक रखते थे और इनकी उम्र 17 से 23 साल के बीच थी। बता दें कि 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना ने एक बालाकोट में एयर स्ट्राइक करके जैश के ट्रेनिंग सेंटर को तबाह कर दिया था।

उस्मान के नक्शेकदम पर चलने की सलाह भी दी : इस ऑडियो में मसूद अजहर कैडर्स को अपने भतीजे उस्मान हैदर के नक्शेकदम पर चलने के लिए प्रेरित करता हुआ सुनाई दिया। उस्मान (18) इब्राहिम हैदर का बेटा था, जो 30 अक्टूबर 2018 को सुरक्षा बलों से मुठभेड़ के दौरान मार दिया गया था। बता दें कि इब्राहिम मसूद अजहर का बड़ा भाई है। वह 1999 के इंडियन एयरलाइंस विमान हाईजैकिंग में भी शामिल था।

Next Stories
1 कांग्रेस से गठबंधन को बैचेन है ‘आप’: शीला दीक्षित
2 चुनावी दंगल के लिए नेताओं की दौड़ तेज, अक्षय कुमार से लेकर गौतम गंभीर तक कतार में
3 पुरानी दिल्ली का कौन होगा नया दावेदार
यह पढ़ा क्या?
X