ताज़ा खबर
 

बीजेपी सांसद और नेताओं से भिड़े जिग्नेश मेवानी के समर्थक, अंबेडकर की मूर्ति को माला पहनाने से रोका

ambedkar jayanti 2018: भाजपा सांसद किरीट सोलंकी और अन्य भाजपा नेता 127वीं आंबेडकर जयंती के उपलक्ष्य में डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा माल्यार्पण के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान जिग्नेश मेवानी के समर्थकों ने भाजपा नेताओं का विरोध किया, जिससे हंगामा हो गया।

दलित कार्यकर्ता भाजपा नेताओं का विरोध करते हुए। (image source-ANI)

गुजरात की राजधानी अहमदाबाद में आंबेडकर जयंती के मौके पर उस वक्त हंगामा हो गया, जब भाजपा सांसद और कुछ अन्य नेताओं को दलित कार्यकर्ताओं ने बाबा साहब भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा को माला पहनाने से रोक दिया। भाजपा नेताओं को रोकने वाले दलित कार्यकर्ता विधायक जिग्नेश मेवानी के समर्थक बताए जा रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने इस मामले में 5 दलित कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है।

घटना शनिवार सुबह की है, जब भाजपा सांसद किरीट सोलंकी और अन्य भाजपा नेता 127वीं आंबेडकर जयंती के उपलक्ष्य में डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा माल्यार्पण के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान जिग्नेश मेवानी के समर्थकों ने भाजपा नेताओं का विरोध किया, जिससे हंगामा हो गया। इस हंगामे के बीच दलित कार्यकर्ताओं ने भाजपा के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की। वहीं इस हंगामे पर भाजपा सांसद किरीट सोलंकी का कहना है कि दुनिया की कोई ताकत (डॉ. आंबेडकर को श्रद्धांजलि देने से) हमें नहीं रोक सकती। बता दें कि हाल ही में एससी एसटी अत्याचार निवारण एक्ट में हुए बदलावों के विरोध में दलितों ने देशव्यापी विरोध प्रदर्शन किया था। इस विरोध प्रदर्शन के दौरान भारी हिंसा हुई थी।

एससी एसटी अत्याचार निवारण एक्ट में बदलाव को लेकर दलित समुदाय भाजपा से नाराज बताया जा रहा है। हालांकि भाजपा सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर एससी एसटी अत्याचार निवारण एक्ट की यथास्थिति बनाए जाने की अपील की है। इसके साथ ही ऊना कांड को लेकर भी दलितों में नाराजगी है। यही वजह है कि इस बार भाजपा ने आंबेडकर जयंती पर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया है। पार्टी के बड़े बड़े नेताओं को इन कार्यक्रमों की जिम्मेदारी दी गई है। बता दें कि इससे पहले खबर आयी थी कि पंजाब के अंबाला में आंबेडकर जयंती पर दलितों के 2 ग्रुप आमने-सामने आ गए। दरअसल यहां के नारायणगढ़ में बाबा साहेब आंबेडकर की मूर्ति को दलित द्वारा ही क्षतिग्रस्त कर दिया। जिसकी शिकायत दलितों के दूसरे ग्रुुप ने पुलिस से की। शिकायत में कहा गया है कि आरोपी शोभायात्रा के दौरान माहौल खराब करने की साजिश रच रहा था। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है, वहीं मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App