ताज़ा खबर
 

अखलाक के गांव में तनाव: नेता ने किया आरोपी की मौत का बदला लेने का आह्वान, घर छोड़ रहे मुसलमान!

बिसाहड़ा के मुस्लिम परिवारों में भय और दहशत का माहौल है। हालांकि प्रशासन उन्हें कड़ी सुरक्षा मुहैया करा रहा है लेकिन कुछ भी अनहोनी की आशंका उनके मन में घर कर रही है।
दादरी के बिसाहड़ा गांव में तनाव, शव पर ग्रामीणों ने चढ़ाया तिरंगा

उत्तर प्रदेश में ग्रेटर नोएडा के दादरी इलाके के बिसाहड़ा गांव में तनाव बरकरार है। अखलाक की हत्या का आरोपी रविन सिसोदिया का अंतिम संस्कार तीन दिनों बाद भी नहीं किया जा सका है। ‘द हिन्दू’ अखबार ने अपनी वेबसाइट पर लिखा है कि बिसाहड़ा के मुस्लिम परिवारों में भय और दहशत का माहौल है। हालांकि प्रशासन उन्हें कड़ी सुरक्षा मुहैया करा रहा है लेकिन कुछ भी अनहोनी की आशंका उनके मन में घर कर रही है। ‘द हिन्दू’ ने गांव के मौलवी दाऊद के हवाले से लिखा है कि प्रशासन मुस्लिमों और अल्पसंख्यकों को सुरक्षा मुहैया करा रहा है, बावजूद इसके लोगों में विश्व हिन्दू परिषद का खौफ है और लोग गांव छोड़कर जा रहे हैं।

रविन ही मौत होने के बाद से ही इस मसले पर हिन्दूवादी संगठनों ने वहां डेरा डाल रखा है। विहिप नेता साध्वी प्राची भी दो दिनों से वहीं जमी हुई हैं। 2013 के मुजफ्फरनगर दंगों की आरोपी साध्वी ने वहां विरोध कर रहे लोगों को संबोधित किया है और रविन सिसोदिया की मौत का बदला लेने के लिए लोगों को उकसाया है। पुलिस की मौजूदगी में ही कपिल भाटी नाम के एक अन्य स्थानीय नेता ने भी हिन्दुओं को सिसोदिया की मौत का बदला लेने का आह्वान किया है।

वीडियो देखिए: ग्रामीणों का दाह संस्कार से इनकार

इसबीच, हजारों ग्रामीणों ने रवि को शहीद करार देते हुए उसके शव पर तिरंगा रख दिया है और सरकार से एक करोड़ रुपये के मुआवजा देने की मांग लेकर धरना पर बैठे हैं। इसके साथ ही ग्रामीण अखलाक हत्याकांड में नामजद सभी 17 लोगों को तुरंत रिहा करने की मांग कर रहे हैं। इसी कांड में नामजद 22 वर्षीय रविन सिसोदिया की मौत मंगलवार को किडनी और श्वसन तंत्र फेल हो जाने से हो गई थी। इस बीच गांव में विश्व हिन्दू परिषद के नेताओं और गोरक्ष दल के लोगों का जमावड़ा लगा हुआ है।

CPI, BJP, FIR, Ikhlaak, Akhlaak, security, family, UP election, muslim politics गोमांस खाने की अफवाह फैलने के बाद आक्रोशित भीड़ के हमले में मोहम्मद अखलाक की मौत हो गई थी। (फाइल फोटो)

Read Also-दादरी कांड: अखलाक की हत्‍या के आरोपी के शव पर रखा तिरंगा, शहीद बता मांगा एक करोड़ का मुआवजा

dadri lynching, dadri lynching arrests, dadri lynching main accused, dadri arrest, dadri lynching accused, dadri accused, dadri news, india news, दादरी, बिसाहड़ा, गोमांस, इखलाक, मुख्‍य आरोपी मोहम्मद अखलाक के परिवार से मिलने पहुंचे थे राहुल गांधी (फोटो: PTI)

गौरतलब है कि बीमारी के बाद रविन को पहले उसे नोएडा के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। बाद में तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश (एलएनजेपी) अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई। गांववालों का आरोप है कि रविन और उसके साथ तीन और आरोपियों की जेल में पिटाई की गई है, जिसके बाद रविन को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी मौत हो गई। आपको बता दें कि रविन अखलाक की हत्या के आरोप में जेल में बंद था। पिछले साल सितंबर में मोहम्मद अखलाक की हत्या बीफ खाने के शक में उग्र भीड़ ने पीट-पीटकर कर दी थी।

दादरी कांड से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

Dadri lynching, yogi adityanath, beef, forensic report, Dadri report, Dadri lynching forensic report, Dadri lynching news मोहम्मद अखलाक की बहन। (Photo Source: Indian Express/ Gajendra Yadav)

Read Also-सुप्रीम कोर्ट का फैसला, अगर पत्नी सास-ससुर से अलग रहने की जिद करे तो पति दे सकता है तलाक

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Alam
    Oct 8, 2016 at 9:36 am
    Kiya hoga hamare desh ka sirf is wjah se ak hattiyare ko tirange me lapet diya ki wo hindu he. Tirange ki isse badi toheen or kiya hogi.
    (0)(0)
    Reply
    1. A
      Ashraf
      Oct 7, 2016 at 8:47 pm
      तूफ़ान कर रहा था अख़लाक़ को सलाम । दुनया समझ रही थी मेरी कशती भँवर में है । में अपने भाइयों से यह गुज़ारिश करता हू के घर छोर कर न भागो इस्लाम ये कहता है कोइ तुम्हारे हा या प्रहार करें तो तुम उससे लड़ो । अगरचे वो हत्यार भी लेकर भी आए तो तुम हारे पास लाथी भी हो तो तुम उससे लरो मरो गे तो शहीद जीयो गे तो आज़ाद
      (0)(0)
      Reply
      1. K
        ks
        Oct 7, 2016 at 4:46 pm
        केजरी राहुल को तुरंत जाकर स्थीटी को शांत करना चहाइए और अख़लाक़ का मुवाजा बढाकर ५ करोड़ करना चाहीए हिन्दू तो होते ही मारने के liyea क्योकि वो एक नहीं है /??????????? दोस्तों जब तक हिन्दू एक नहीं होगा यो हे मरते रहेंगे ये केजरी मुलायम राहुल मुसलमानो का दर्द तो समजेंगे हिन्दू को sataynge
        (1)(1)
        Reply
        1. I
          IMRANKHAN
          Oct 7, 2016 at 12:15 pm
          Bahut he jyada saram ki bat h ki hatya k aaropi ki dad body tirange k neeche rakhi hue h. Or jisko hamari court n apradhi ghosit kiya hua h. Yani ki bure kam ka bura natija
          (0)(1)
          Reply
          1. B
            bitterhoney
            Oct 7, 2016 at 4:17 pm
            सरकार को कड़ाई से कार्रवाई करनी चाहिए . स्थिति को बिगड़ने नहीं देना चाहिए. अराजक तत्वों को तुरंत गिरफ्तार करके जेल भेज देना चाहिए. किसी को भी कानून से खिलवाड़ करने की इजाजत नहीं देनी चाहिए..
            (1)(0)
            Reply
          2. F
            fs
            Oct 8, 2016 at 2:27 pm
            s
            (0)(0)
            Reply
            1. Load More Comments