ताज़ा खबर
 

माकपा ने तमिलनाडु में वैकल्पिक राजनीति देने का वादा किया

माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने एक फेसबुक पोस्ट में कहा कि दोनों ने (द्रमुक और अन्नाद्रमुक ने) भ्रष्टाचार को एक कला में बदल दिया है। वे एक ही आर्थिक नीति का अनुसरण करते हैं।

Author नई दिल्ली | Published on: January 27, 2016 9:58 PM
माकपा महासचिव सीताराम येचुरी

तमिलनाडु में आने वाले विधानसभा चुनाव के लिए एजेंडा तय करते हुए माकपा ने आज द्रमुक और अन्नाद्रमुक पर हमला बोला और आरोप लगाया कि उन्होंने भ्रष्टाचार को एक ‘कला’ में बदल दिया है। इसके साथ ही इस वाम पार्टी ने ‘बेहतर कल’ के लिए लोगों को ‘वैकल्पिक राजनीति’ देने का आश्वासन दिया। माकपा पीपल्स वेलफेयर अलाइंस (पीडब्ल्यूए) का हिस्सा है जिसे वामपंथी पार्टियों ने एमडीएमके और विदुथलाई चिरुथैगल काक्षी के साथ मिलकर बनाया है। इसने सत्ताधारी अन्नाद्रमुक को कथित तौर पर भाजपा से सांठगांठ के लिए निशाने पर लिया, जिसके बारे में पीडब्ल्यूए ने कहा कि जो हानिकारक आर्थिक नीतियों और जहरीली सामाजिक नीतियों और राजनीति को बढ़ावा देती है।

माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने एक फेसबुक पोस्ट में कहा कि दोनों ने (द्रमुक और अन्नाद्रमुक ने) भ्रष्टाचार को एक कला में बदल दिया है। वे एक ही आर्थिक नीति का अनुसरण करते हैं। अब राज्य की सत्ताधारी पार्टी की केंद्र सरकार के साथ सांठगांठ है, जो हानिकारक आर्थिक नीतियों और जहरीली सामाजिक नीतियों और राजनीति को बढ़ावा देती है। येचुरी ने कहा कि राज्य के लोगों ने पिछले कुछ चुनावों में सिर्फ दो गठबंधनों में से एक को चुना और उन्होंने आश्वासन दिया कि पीडब्ल्यूए एक वैकल्पिक राजनीति देगा। उन्होंने कहा, ‘भारत को बचाने के लिए और बेहतर कल बनाने के लिए वैकल्पिक राजनीति अनिवार्य है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories