ताज़ा खबर
 

कोरोना: अगले महीने मुंबई को पीछे छोड़ सकती है दिल्ली, एक्सपर्ट कमेटी ने दिल्ली सरकार को चेताया

मुंबई में अभी अबतक 51,100 लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं वहीं दिल्ली में 31,309 लोग इस वायरस से संक्रमित हैं। लेकिन आने वाले समय में दिल्ली मुंबई से आगे निकाल सकता है। इसकी बड़ी वजह दिल्ली का पॉजेटिविटी रेट है जो लगातार तेजी से बढ़ रहा है।

Coronavrius, covid-19, Coronavrius testing kit, Coronavrius antibody test, Coronavrius antibody test in india, coronavirus india, coronavirus tips, coronavirus update, coronavirus cases, coronavirus vaccine, coronavirus update indiaCoronavirus: तेजी से बढ़ रहा है दिल्ली का पॉजेटिविटी रेट। (file)

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस का संक्रमण बेहद तेजी से फैल रहा है। यहां रोजाना सैकड़ों की संख्या में पॉज़िटिव मामले सामने आ रहे हैं। एक्स्पर्ट्स के मुताबिक अगर ऐसा ही रहा तो संक्रमितों के मामले में दिल्ली बहुत जल्द मुंबई को पीछे छोड़ सकती है। मुंबई में अभी अबतक 51,100 लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं वहीं दिल्ली में 31,309 लोग इस वायरस से संक्रमित हैं। लेकिन आने वाले समय में दिल्ली मुंबई से आगे निकाल सकता है। इसकी बड़ी वजह दिल्ली का पॉजेटिविटी रेट है जो लगातार तेजी से बढ़ रहा है।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में 7 जुलाई तक 1,34,061 केस हो जाएंगे, वहीं मुंबई में तब तक 1,18,004 केस होंगे। दिल्ली सरकार इसको लेकर बार बार लोगों को चेतावनी दे रही है। दिल्ली सरकार का मानना है कि जुलाई के अंत तक उन्हें 80,000 बिस्तरों की ज़रूरत पड़ेगी। इसको ध्यान में रखते हुए सरकार ने दिल्ली की होटलों और स्टेडियमों को कोविड केयर सेंटर में तब्दील कर रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि 15 जुलाई तक दिल्ली को 33,000 बिस्तरों की जरूरत पड़ेगी, वहीं 31 जुलाई तक 80,000 बिस्तरों की जरूरत पड़ेगी। केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली के अस्पतालों में 50% लोग बाहर से अकार इलाज़ कराते हैं। सब कुछ मिला लिया जाये तो भी इतने बिस्तरों की जरूरत पड़ेगी ही।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का कहना है कि दिल्ली में 30 जून तक उम्मीद है कि 15,000 बेड की जरूरत होगी, इनको हम 20 जून तक तैयार कर लेंगे। अभी हमारे पास करीब 11,000 बेड तैयार हो चुके हैं। जैन ने आगे कहा “दिल्ली में 90 निजी अस्पतालों में कोरोना वायरस का इलाज हो रहा है और दिल्ली सरकार के 5 कोविड अस्पतालों में कोरोना वायरस का इलाज हो रहा है।”

ताजा डेटा के मुताबिक, 3 जून को साउथ-ईस्ट दिल्ली और शहादरा में पॉजिटिविटी रेट 30.4 प्रतिशत और 24.86 प्रतिशत दर्ज किया गया है। इसी दिन सेंट्रल दिल्ली और नॉर्थ दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट 21.24 और 20.52 प्रतिशत था। यह डेटा चिंता इसलिए पैदा करता है क्योंकि कोरोना शुरू होने से लेकर 3 जून तक दिल्ली का पॉजिटिविटी रेट सिर्फ 10.27 प्रतिशत था। तब दिल्ली में 23 हजार पॉजिटिव केस थे और 230,145 टेस्ट हो चुके थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कब तक करते रहेंगे खरीद-फरोख्त? हम भी दे सकते हैं आपको झटका’, अशोक गहलोत ने बीजेपी को चेताया
2 चेन्नई में 200 मौत का अता-पता नहीं, आंकड़ों में हेरफेर के बाद सरकार ने दिया कोरोना से मौत की ऑडिट का आदेश
3 राज्यसभा चुनावः हमारे विधायकों को दिया जा रहा प्रलोभन, कांग्रेस नेता ने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में दर्ज कराई शिकायत
IPL 2020 LIVE
X