ताज़ा खबर
 

कोरोना छोड़ जाएगा बड़ा असर, केवल केरल में विदेश से लौटे 8.4 लाख लोग, 5.5 लाख लोगों की चली गई नौकरी

नौकरी जाने और अन्य कारणों की वजह से बड़ी तादाद में लोग विदेश से केरल वापस लौटे हैं। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल मई में विदेश से आए 8.4 लोगों में से 5.52 लाख ने वापस आने का कारण नौकरियां नहीं होना बताया।

नौकरी जाने और अन्य कारणों की वजह से बड़ी तादाद में लोग विदेश से केरल वापस लौटे हैं।(file)

कोरोना संकट के चलते देश में बेरोजगारी दर लगातार बढ़ रही है। नौकरी जाने और अन्य कारणों की वजह से बड़ी तादाद में लोग विदेश से केरल वापस लौटे हैं। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल मई में विदेश से आए 8.4 लाख लोगों में से 5.52 लाख ने वापस आने का कारण नौकरियां नहीं होना बताया।

गैर-निवासी केरलवासी मामलों के विभाग द्वारा संकलित आंकड़ों के अनुसार, मई 2020 और 4 जनवरी के बीच करीब 8.43 लाख लोग विदेशों से केरल वापस लौट आए। उनमें से, 5.52 लाख ने कहा कि उन्होंने अपनी नौकरी खो दी है। इनमें से 1.40 लाख लोग पिछले महीने ही वापस आए हैं। वापस आए 2.08 लाख लोगों का कहना है कि उनके नौकरी वीजा की अवधि समाप्त हो गई थी या उन्होने वापस आने के अन्य कारण बताए। लोगों ने वीजा खत्म होना, जेल से रिहाई, सालाना छुट्टी जैसे कारण बताए हैं।

आंकड़ों से यह संकेत मिलता है कि कोविड -19 के कारण रोजगार संकट जारी है। केरल की अर्थव्यवस्था को दीर्घकालिक प्रभाव का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि, अंतर्राष्ट्रीय प्रवास पर विशेषज्ञ प्रो इरुदै राजन का कहना है कि प्रवासियों का वास्तविक आंकड़ा कम है। उन्होने कहा ” मुझे लगता है कि यह आंकड़ा दो-तिहाई हो सकता है। आने वाले महीनों में ये लोग नए स्थलों पर काम करने के लिए चले जाएंगे। कुछ लोगों ने वापस लौटना शुरू भी कर दिया है।”

भारतीय स्टेट बैंक एनआरआई सेल के एजीएम अजय कुमार ने बताया कि उन्होंने इस वित्त वर्ष के पहले छह महीनों में स्टैडी ग्राउट देखी है। इसका कारण पहली छमाही में डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट की वजह से हो सकता है, जो आम तौर पर प्रवासी भारतीयों को अधिक पैसा भेजने के लिए प्रेरित करता है। इसके अलावा लोग बैंकों में पैसा रखना पसंद करते हैं, वे कही और निवेश नहीं करते। बता दें भारतीय स्टेट बैंक, केरल के बैंकिंग क्षेत्र में एनआरआई द्वारा जमा किए गए रुपयों का 29 प्रतिशत हिस्सा होल्ड करता है।

Next Stories
1 बंगाल में सीएम ममता के विधायक ने पत्रकार को जड़ा थप्पड़, केस दर्ज
2 फर्जी कोरोना ऐप से सावधान रहें, टीका लॉन्च से पहले केंद्र ने जारी की एडवायजरी; जानिए जरुरी बातें
3 प्रेम-प्रसंग का किया था विरोध, बेटी-बेटा और पत्नी ने बाप को जिंदा जलाया
ये पढ़ा क्या?
X