ताज़ा खबर
 

अमित शाह बोले- नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार विधानसभा चुनाव में दो-तिहाई बहुमत हासिल करेगा एनडीए, राजद पर भी कसा तंज

शाह ने साफ किया कि रैली का चुनाव से कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि यह जनसंपर्क के लिए यह रैली है। यह रैली कोई चुनावी रैली या राजनीतिक दल के गुणगान की रैली नहीं है। यह रैली आत्मविश्वास से भरपूर, आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए देश की जनता से जोड़ने के लिए की गई है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से बिहार जनसंवाद रैली को संबोधित करते हुए। (PC- ANI)

भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को पहली वर्चुअल रैली की। केंद्रीय मंत्री ने भले ही रैली का राजनीति से कोई संबंध ना होने की बात कही लेकिन वह चुनावी बात से खुद को अलग नहीं रख पाए।

शाह ने कहा, ‘मैं परिवारवादी लोगों को आज कहता हूं कि अपना चेहरा आईना मैं देख लीजिए, 1990-2005 इनके शासन में बिहार की विकास दर 3.19 प्रतिशत थी, आज नीतीश जी के नेतृत्व में ये 11.3 प्रतिशत तक विकास दर पहुंचाने का काम NDA की सरकार ने किया है।’ उन्होंने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है की नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए दोृ-तिहाई बहुमत हासिल करेगा। उन्होंने कहा कि  राज्य अब लालटेन युग से एलईडी युग में पहुंच गया है।

अमित शाह ने राजद के थाली बजाने पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि वर्चुअल रैली से पहले कुछ लोगों ने थाली बजाकर रैली का स्वागत किया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह अच्छा लगा देर सबेर उन लोगों ने मोदी की अपील को माना और कोरोना के खिलाफ थाली बजाई। उन्होंने  कोरोना वायरस से जान गंवाने वाले लोगों के आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।

अमित शाह ने कोरोना योद्धाओं को सलाम किया। शाह ने साफ किया कि रैली का चुनाव से कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि यह जनसंपर्क के लिए यह रैली है। यह रैली कोई चुनावी रैली या राजनीतिक दल के गुणगान की रैली नहीं है। यह रैली आत्मविश्वास से भरपूर, आत्मनिर्भर भारत बनाने की तैयारी को लेकर देश की जनता से जोड़ने के लिए की गई है।

 

इससे पहले, अमित शाह ने कहा कि जनता कर्फ्यू भारत के लोकतांत्रिक इतिहास के अंदर स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाएगा कि देश के एक नेता की अपील पर कोई पुलिस बल प्रयोग किए बगैर पूरे देश ने घर के अंदर रहकर अपने नेता की अपील का सम्मान किया। उन्होंने कहा कि कोरोना योद्धाओं ने अपनी जान जोखिम में डालकर लोग सेवा का व्रत लिया है। उन्होंने कहा कि मैं बिहार की जनता का धन्यवाद करना चाहता हूं जिसने 2014 और 2019 में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए को जनादेश दिया।

उन्होंने बिहार के ऐतिहासिक महत्व का वर्णन किया। उन्होंने कहा कि बिहार की भूमि ने हमेशा भारत का नेतृत्व किया। केंद्रीय गृह मंत्री ने आजादी की लड़ाई में बिहार के नेताओं के योगदान को भी याद किया। उन्होंने कहा कि आपातकाल के खिलाफ बिहार की धरती से ही जेपी ने नेतृत्व में बिगुल फूंका।

Coronavirus Live update: यहां पढ़ें कोरोना वायरस से जुड़ी सभी लाइव अपडेट….

उन्होंने कहा कि 75 वर्चुअल रैलियों का आयोजन किया है। इससे आत्मनिर्भर भारत के पीएम मोदी के आह्वान को सफल बनाने में जुड़ जाएंगे। उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं से कहा कि कुछ लोगों की बातों ध्यान ना देते हुए अपना काम करना है।

शाह ने कहा कि पीएम मोदी ने दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश की सीमाओं को सुरक्षित किया है। उन्होंने कहा कि आज सीमा सुरक्षा में अमेरिका, इजरायल के बाद भारत का नाम लिया जाता है। उन्होंने कहा कि हमने पुलवामा में घुसकर जवाब दिया। दुश्मन को घर में घुसकर मारा। केंद्रीय गृह मंत्री ने कश्मीर से अनुच्छेद 356 को खत्म कर भारत से मिलाने का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने तीन तलाक पर मुस्लिम महिलाओं के साथ होने वाले अन्याय को खत्म किया। शाह ने नागरिकता संशोधन कानून का जिक्र करते हुए करोड़ों शरणार्थियों का सम्मान करने की भी बात कही।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘सोनू सूद महाबली, बाहुबली या सुपरहीरो है?’ प्रवासी मजदूरों की मदद करने पर एक्टर पर भड़की शिवसेना
2 अमित शाह की रैली के विरोध में सड़कों पर उतरा लालू परिवार, सोशल डिस्टेंसिंग के साथ राजद नेताओं ने बजाई थाली
3 बिहार में फिर पोस्टर वार, लालू यादव और शहाबुद्दीन का फोटो छाप लिखा- ‘कैदी बजा रहा थाली, जनता बजाओ ताली’
राशिफल
X