ताज़ा खबर
 

अमित शाह की रैली के विरोध में सड़कों पर उतरा लालू परिवार, सोशल डिस्टेंसिंग के साथ राजद नेताओं ने बजाई थाली

तेजस्वी यादव, बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और तेज प्रताप यादव ने आज होने वाली गृह मंत्री अमित शाह की वर्चुअल रैली और प्रवासी मज़दूरों की स्थिति को लेकर अपना विरोध जताते हुए बर्तन बजाए।

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, राबड़ी देवी और तेज प्रताप यादव ने विरोध जताते हुए बर्तन बजाए। (PC- Ani)

पटना में राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता तेजस्वी यादव, बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और तेज प्रताप यादव ने आज होने वाली गृह मंत्री अमित शाह की वर्चुअल रैली और प्रवासी मज़दूरों की स्थिति को लेकर अपना विरोध जताते हुए बर्तन बजाए। उन्होंने अपने घर के बाहर कार्यकर्ताओं के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अमित शाह की इस रैली का थाली बजाकर विरोध किया।

जेडीयू भाजपा गठबंधन पर निशाना साधते हुए तेज प्रताप ने कहा कि बिहार की डबल इंजन सरकार ने गरीबों को परेशान किया है। श्रमिकों के साथ जिस तरह का व्यवहार किया गया है वह चिंताजनक है। बर्तन बाजा कर विरोध करने के अलावा आरजेडी ने विभिन्न स्थानों पर कुछ पोस्टर भी लगाए हैं। इन पोस्टरों में सात जून, 2020 को श्रद्धांजलि दिवस बताया गया है। पोस्टर में लिखा है- ‘वर्चुअल से एक्चुअल मुद्दों का एनकाउंटर।’ वहीं आरजेडी कार्यालय के बाहर तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ एक पोस्टर लगाया है। तेजस्वी ने नीतीश कुमार पर मजदूरों के साथ छल करने का आरोप लगाया है।

आरजेडी के विरोध प्रदर्शन पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा “कुछ राजनैतिक दल केवल पीएम मोदी और बीजेपी का विरोध विरोध विरोध ही करते हैं। ये वही लोग हैं जिन्होंने कोरोना वॉरियर्स के सम्मान में जब थालियां बजाने के लिए कहा था तो उसका विरोध किया था और आज गरीबों के अधिकार के लिए खुद थालियां बजा रहे हैं।”

Coronavirus Live update: यहां पढ़ें कोरोना वायरस से जुड़ी सभी लाइव अपडेट….

गिरिराज के अलाव बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने भी इस विरोध प्रदर्शन को लेकर आरजेडी पर पलट वार किया है। हुसैन ने कहा “आरजेडी के लोग खाली थाली बजा रहे हैं उनके थाली बजाने से कुछ नहीं होने वाला। उनकी थाली खाली थी, खाली रहेगी क्योंकि बिहार की जनता ने जब 15 साल उनकी थाली में सत्ता सौंपी थी तब उन्होंने सत्ता का पूरा दुरुपयोग किया था।”

अमित शाह की रैली पर बिहार कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने भी निशाना साधा है। झा ने कहा कि वर्चुअल रैली की जगह पश्चाताप रैली करना चाहिए। बिना किसी तैयारी के जल्दबाज़ी में लौकडाउन कर दिया। लॉकडाउन के चलते हज़ारों लोगों की मौत हो गई। गरीब मज़दूर परेशान है और ये चुनावी रैली कर रहे हैं।

बता दें कि कोरोना महामारी के बीच भाजपा रविवार को बिहार में चुनावी बिगुल फूंकने जा रही है। अमित शाह रविवार को फेसबुक लाइव पर रैली कर बिहार में भाजपा का चुनावी बिगुल फूंकेंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बिहार में फिर पोस्टर वार, लालू यादव और शहाबुद्दीन का फोटो छाप लिखा- ‘कैदी बजा रहा थाली, जनता बजाओ ताली’
2 ‘दिल्ली के अस्पताल सिर्फ दिल्ली वालों के लिए’, सीएम अरविंद केजरीवाल का ऐलान, कल से खुलेंगे राजधानी के सभी बॉर्डर
3 कोरोना पर बिहार में नीतीश का अपना ही ऑर्डर फेल, क्‍या यह है चुनावी खेल?
IPL 2020 LIVE
X