मरीजों की बजाय बालू ढोने के काम आ रही BJP सांसद की एंबुलेंस, पप्पू यादव ने वीडियो जारी कर पीएम से की यह अपील

यादव ने जो वीडियो ट्वीट किया है, उसमें एक एबुलेंस पर बालू से भरी बोरियां लादी जा रही हैं। एंबुलेंस पर सारण से बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी का नाम लिखा हुआ है। यादव ने राजीव प्रताप रूडी पर जनसंसाधनों के दुरुपयोग का आरोप लगाया है।

mp rajiv pratap rudy, pappu yadav, ambulance issue in bihar, politics on ambulance in bihar, papu yadav tweet video of an ambulance
पूर्व सांसद पप्पू यादव ने पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी पर जनसंसाधनों के दुरुपयोग का आरोप लगाया है।

बिहार की जनअधिकार पार्टी (जाप) के अध्यक्ष और पूर्व सांसद पप्पू यादव और भारतीय जनता पार्टी (BJP) नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी के बीच शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। हालही में रूडी के अमनौर ऑफिस कैंपस में दर्जनों एंबुलेंस खड़ी मिली थी। इसके बाद से पप्पू यादव और बीजेपी सांसद के बीच बयानबाजी का दौर जारी है।

शनिवार को पप्पू यादव ने एक वीडियो ट्वीट कर इस विवाद को और बढ़ा दिया। यादव ने जो वीडियो ट्वीट किया है, उसमें एक एबुलेंस पर बालू से भरी बोरियां लादी जा रही हैं। एंबुलेंस पर सारण से बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी का नाम लिखा हुआ है। यादव ने राजीव प्रताप रूडी पर जनसंसाधनों के दुरुपयोग का आरोप लगाया है। यदाव ने कहा “मरीजों को एंबुलेंस नहीं मिल रही हैं और सांसद कोटे से खरीदी गई एंबुलेंस में बालू ढोई जा रही है।”

पूर्व सांसद ने वीडियो ट्वीट कर कहा, ‘एंबुलेंस का राजीव प्रताप रूडी जी बालू ढोने में बहुत बेहतरीन उपयोग कर रहे थे। इसके लिए उनके पास ड्राइवर भी उपलब्ध था। लेकिन बीमारों की मदद के लिए एंबुलेंस चलाने के लिए ड्राइवर नहीं था।’ कोविड-19 महामारी जब अपने चरम पर है, ऐसे में मरीजों को पहुंचाने में एंबुलेंस का इस्तेमाल नहीं करने के लिए पप्पू यादव ने भाजपा सांसद रूडी की तीखी आलोचना की।

यादव ने कहा कि लोगों को एक किलोमीटर तक कोविड मरीज को ले जाने के लिए 12,000 रुपये तक देने पड़ रहे हैं। एंबुलेंस की घोर किल्लत है। ऐसे में सारण के सांसद ने एंबुलेंस को बिना इस्तेमाल के खड़ा कर रखा है। पप्पू यादव ने कहा, कि उन्होंने (रूडी) अपने कुछ लोगों को एंबुलेंस बांट दी। इस मामले की जांच होनी चाहिए। एमपीलैड कोष जनता का धन है।

यादव ने एक जगह दो दर्जन एंबुलेंस बिना इस्तेमाल के खड़ी होने का भी दावा किया। उन्होंने ट्वीट कर मामले में पीएम से शिकायत की है। वहीं रूडी ने अपना बचाव करते हुए कहा कि कोविड महामारी के कारण ड्राइवर नहीं मिलने से एंबुलेंस रखी हुई थी।

पूर्व मंत्री राजीव प्रताप रूडी के प्रशिक्षण केंद्र पर खड़ी एंबुलेंस मामले में उनसे मिली चुनौती का जवाब देते हुए पप्पू यादव ने आज 40 लाइसेंस धारी ड्राइवर खड़े कर दिए और कहा कि बिहार सरकार जहां भी एंबुलेंस को ड्राइवर की जरूरत हो, वे लें जाएं। इसके लिए उन्होंने जाप के राष्ट्रीय महासचिव प्रेमचंद सिंह का नंबर 9334123702 जारी किया और कहा कि सरकार इन ड्राइवर को सरकारी नौकरी भी दे। साथ ही उन्होंने महामारी एक्ट के तहत भाजपा नेता राजीव प्रताप रूडी पर मुकदमा दर्ज करने की भी मांग की।

रूडी के एक समर्थक ने यादव पर परिसर में जबरन घुसने और एंबुलेंस में तोड़फोड़ करने का आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत दी है। पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार ने बताया कि शनिवार को अमनौर थाने में यादव के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गयी।

 

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X