ताज़ा खबर
 

Corona Lockdown: सोशल मीडिया पर फेक न्यूज, अफवाहों और नफरत फैलाने वाली पोस्ट को लेकर पुलिस ने दर्ज किए 131 मामले

महाराष्ट्र साइबर प्रकोष्ठ के पुलिस अधीक्षक बालं सिंह राजपूत ने कहा, ‘‘मामलों के आंकड़ों का विश्लेषण करने से यह पता चला कि पिछले पांच दिनों में नफरत भरे बयान से जुड़े मामलों में इजाफा हुआ है।’’

Author मुंबई | Updated: April 9, 2020 4:11 PM
महाराष्ट्र पुलिस ने इन मामलों के सिलसिले में कम से कम 35 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 28 अन्य अपराधियों की पहचान की गई है। उन्होंने कहा कि ये आपराधिक गतिविधियां ज्यादातर व्हाट्सएप, फेसबुक और ट्विटर पर देखी गई हैं।

महाराष्ट्र साइबर पुलिस ने राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू होने के बाद पिछले कुछ दिनों में सोशल मीडिया पर फर्जी खबरों और नफरत भरी सांप्रदायिक टिप्पणी में वृद्धि दर्ज की है। एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। राज्य साइबर पुलिस ने लॉकडाउन लागू होने के बाद से सोशल मीडिया पर फर्जी खबरों, अफवाहों और नफरत फैलाने वाली टिप्पणी के संबंध में बुधवार तक 132 मामले दर्ज किए हैं। इनमें 49 मामले सोशल मीडिया और अन्य ऑनलाइन चैनलों पर नफरत भरे बयान से संबंधित हैं। उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटों में साइबर पुलिस ने 20 मामले दर्ज किए हैं, जिनमें से 14 मामले कोरोना वायरस महामारी की स्थिति को सांप्रदायिक रंग देने और छह अफवाह फैलाने के मामले हैं।

महाराष्ट्र साइबर प्रकोष्ठ के पुलिस अधीक्षक बालं सिंह राजपूत ने कहा, ‘‘मामलों के आंकड़ों का विश्लेषण करने से यह पता चला कि पिछले पांच दिनों में नफरत भरे बयान से जुड़े मामलों में इजाफा हुआ है।’’ उन्होंने कहा कि इन मामलों के सिलसिले में कम से कम 35 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 28 अन्य अपराधियों की पहचान की गई है। उन्होंने कहा कि ये आपराधिक गतिविधियां ज्यादातर व्हाट्सएप, फेसबुक और ट्विटर पर देखी गई हैं।

बता दें कि मुंबई में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या 590 तक पहुंच गयी और इसमें करीब 50 फीसद मरीज चार वार्ड में हैं । बीएमसी से प्राप्त आंकडों में यह जानकारी दी गई। मुंबई में 24 प्रशासनिक वार्ड है और यह न केवल महाराष्ट्र में बल्कि पूरे देश में कोरोना वायरस संक्रमण के लिहाज से सबसे अधिक संवेदशील स्थान के रूप में उभरा है ।
बीएमसी की ओर से बुधवार को जारी ताजा इंफोग्राफिक के अनुसार मुंबई के 590 संक्रमित मरीजों में से 282 मामले दक्षिण में डी, ई, जी वार्ड तथा पश्चिम में के वार्ड में मिले हैं ।
देश की आर्थिक राजधानी में कोरोना वायरस से अबतक 40 लोगों की मौत हो चुकी है।

बीएमसी के आंकडों के अनुसार मेट्रो शहर में सबसे अधिक 133 मामले जी—दक्षिण वार्ड में है । इस वार्ड में सबसे अधिक 71 प्रतिशत केस सात अप्रैल को सामने आये थे । छह अप्रैल तक वार्ड में कोरोना संक्रमण के कुल 78 मामले थे। जी—दक्षिण वार्ड में महालक्ष्मी, हाजीअली, रेसकोर्स, वर्ली, लोअर पारेल, कर्रे रोड, एलिफिंस्टन रोड एवं सात रास्ता इलाका शामिल है । इनमें से अधिकतर इलाके महारारष्ट्र के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे के विधानसभा क्षेत्र वर्ली में आता है। बीएमसी आंकडों के अनुसार जी—दक्षिण वार्ड के बाद, डी, ई तष्था के—पश्चिम का नंबर आता है जहां कोरोना संक्रमित क्रमश: 59, 46 एवं 43 मरीज हैं। केंद्र ने मुंबई को कोविड 19 संक्रमण के लिहाज से सबसे अधिक संवेदेशील क्षेत्र घोषित किया है और इसकी रोकथाम के लिए कई उपाय किये गये हैं ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 कोविड-19 ड्यूटी के चलते 15 दिन से घर नहीं लौटी नर्स मां को याद करती हुई बच्ची का वीडियो वायरल
2 Corona Update: लखनऊ में सील किए गए 12 संवेदनशील इलाकों में पुलिस का सख्त पहरा, गलियां सूनसान
3 Covid 19 से देश में पहले डॉक्टर की मौत, नहीं कर रहे थे कोरोना पीड़ितों का इलाज, शहर पूरी तरह से सील