ताज़ा खबर
 

दिल्ली CM अरविंद केजरीवाल का बिगड़ा स्वास्थ्य, बुखार-गले में खराश के बाद खुद को किया आइसोलेट; कराएंगे कोरोना टेस्ट

COVID-19: बीते शनिवार से ही सीएम की सारी मीटिंग रद्द कर दी गईं और उन्होंने किसी से मुलाकात भी नहीं की है। केजरीवाल फिलहाल आइसोलेशन में हैं।

CM kejriwalदिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल।

COVID-19: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तबीयत अचानक बिगड़ गई है। उन्हें रविवार से ही हल्के बुखार और गले में खराश की शिकायत थी। अब सीएम केजरीवाल का कोरोना टेस्ट कराया जाएगा। अधिकारियों ने सोमवार (8 जून, 2020) को बताया कि मुख्यमंत्री रविवार दोपहर से ही अस्वस्थ महसूस कर रहे थे। उन्होंने बताया कि रविवार को दोपहर बाद से ही उन्हें गले में खराश और बुखार की शिकायत महसूस हो रही थी। डाक्टरों की सलाह के अनुसार मुख्यमंत्री मंगलवार की सुबह कोविड-19 की जांच कराएंगे। केजरीवाल फिलहाल आइसोलेशन में हैं।

इधर रविवार से ही सीएम की सारी मीटिंग रद्द कर दी गईं और उन्होंने किसी से मुलाकात भी नहीं की है। अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री ने रविवार की सुबह कैबिनेट की एक बैठक में भाग लिया था और उसके बाद वह किसी बैठक में शामिल नहीं हुए। मुख्यमंत्री पिछले दो हफ्ते से अपनी अधिकतर बैठकें अपने घर से ही वीडियो कांफ्रेंस के जरिए कर रहे हैं।

केजरीवाल के बीमार होने पर राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की मंगलवार को होने वाली मीटिंग पर अनिश्चितता के बादल मंडराने लगे हैं। ये महत्वपूर्ण मीटिंग यह पता लगाने के लिए होनी थी क्या दिल्ली ने सामुदायिक प्रसार चरण में प्रवेश कर लिया है। अगर मीटिंग होती है तो एलजी, सीएम, राजस्व मंत्री, मुख्य सचिव और पुलिस कमिश्नर इसमें शामिल होंगे।

बता दें कि सीएम केजरीवाल को आखिरी बार रविवार शाम को एक ऑनलाइन मीडिया ब्रीफिंग के दौरान देखा गया था। इस बीच उन्होंने कोरोना वायरस महामारी के दौरान दिल्ली के सरकारी और निजी अस्पतालों में सिर्फ दिल्लीवासियों का इलाज होने की घोषणा की। साथ ही कहा कि शहर की उत्तर प्रदेश तथा हरियाणा से लगी सीमाएं सोमवार यानी आज से खुलेंगी। केजरीवाल ने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दिल्ली में केंद्र सरकार द्वारा संचालित अस्पतालों के लिए इस तरह का कोई प्रतिबंध नहीं होगा और यदि दूसरे राज्यों के लोग कुछ विशेष ऑपरेशनों के लिए दिल्ली आते हैं, तो उन्हें निजी अस्पतालों में उपचार कराना होगा।

UP, Uttarakhand Coronavirus LIVE Updates

मुख्यमंत्री की इस घोषणा से एक दिन पहले आप सरकार द्वारा गठित पांच सदस्यीय समिति ने सिफारिश की थी कि कोविड-19 संकट के मद्देनजर शहर की स्वास्थ्य सुविधाओं का इस्तेमाल सिर्फ दिल्लीवासियों के इलाज के लिए होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘मार्च तक दिल्ली के सभी अस्पताल, देश के सभी लोगों के लिए खुले हुए थे। दिल्ली के बाशिंदों ने कभी किसी व्यक्ति को इलाज से मना नहीं किया और दिल्ली में हमेशा ही करीब 60-70 फीसदी मरीज अन्य राज्यों के रहे हैं।’

केजरीवाल ने कहा, ‘लगभग 7.5 लाख लोगों ने हमें अपने सुझाव भेजे और 90 फीसदी से अधिक लोग चाहते हैं कि कोरोना वायरस महामारी के दौरान दिल्ली के अस्पताल सिर्फ राष्ट्रीय राजधानी के मरीजों का उपचार करें।’

इधर देश में कोविड-19 के रिकॉर्ड 9,983 नए मामले सामने आने के बाद देशभर में संक्रमितों की कुल संख्या 2,56,611 पर पहुंच गई है जबकि संक्रमण के कारण 206 और मौतें होने के साथ ही मरने वालों की संख्या 7,135 हो गई है। देशभर में कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण अभी तक हुई कुल 7,135 मौतों में से, 3,060 मौतों के साथ महाराष्ट्र सबसे ऊपर है, जिसके बाद गुजरात में 1,249 मौतें हुईं, जबकि दिल्ली में 761 मौतें हुई हैं। दिल्ली में 27,654 लोगों को कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। (एजेंसी इनपुट)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गर्भवती पत्नी के पास पहुंचना था, पर श्रमिक ट्रेन में नहीं मिल पाई जगह, 5 दिन में 100 सीसी की बाइक से तय किया 2300 किमी लंबा सफर
2 कोरोना पर दिल्ली-मुंबई में और भयावह होंगे हालात? AIIMS के बाद अब ICTS ने चेताया- एक-एक दिन में आ सकते हैं 35 हजार केस
3 ‘मुस्लिम मरीज का नहीं करूंगा इलाज’, स्टाफ ने WhatsApp पर डाला पोस्ट, वायरल होने पर अस्पताल के खिलाफ बैठी जांच
राशिफल
X