ताज़ा खबर
 

दिल्ली में कोरोना से हालात और होंगे बदतर, लागू हो लॉकडाउन, हाईकोर्ट में दाखिल हुई PIL

वकील अनिर्बान मंडल और उनके कर्मी पवन कुमार द्वारा दायर याचिका में कहा गया है कि दिल्ली सरकार ने स्वयं स्वीकार किया है कि राष्ट्रीय राजधानी में जून के अंत तक कोरोना वायरस संक्रमण के करीब एक लाख मामले सामने आएंगे।

Author नई दिल्ली | Updated: June 11, 2020 3:31 PM
दिल्ली उच्च न्यायालय। (file)

दिल्ली उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर कर राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामलों के मद्देजनर ‘आप’ सरकार को यहां सख्ती से लॉकडाउन लागू करने का निर्देश दिए जाने का अनुरोध किया गया है।

वकील अनिर्बान मंडल और उनके कर्मी पवन कुमार द्वारा दायर याचिका में कहा गया है कि दिल्ली सरकार ने स्वयं स्वीकार किया है कि राष्ट्रीय राजधानी में जून के अंत तक कोरोना वायरस संक्रमण के करीब एक लाख मामले सामने आएंगे और जुलाई के मध्य तक करीब 2.25 लाख एवं जुलाई के अंत तक 5.5 लाख मामले सामने आने की आशंका है।

याचिका में दिल्ली सरकार को यह निर्देश देने की अपील की गई है कि वह चिकित्सकों, चिकित्सकीय विशेषज्ञों और महामारी रोग विशेषज्ञों की एक विशेषज्ञ समिति गठित करने पर विचार करे ताकि संक्रमण को काबू करने की योजना का ‘‘विस्तृत खाका’’ तैयार किया जा सके।

याचिकाकर्ताओं ने लॉकडाउन लागू किए जाने का अनुरोध करते हुए कहा है कि पहले लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान संक्रमण के मामले बढ़ने की दर कम थी। याचिका में दावा किया गया है कि राष्ट्रीय राजधानी में लोगों के आवागमन और सार्वजनिक परिवहन सेवा पुन: आरंभ करने, धार्मिक स्थल, मॉल, रेस्तरां और होटल खोलने जैसी गतिविधियों की अनुमति देने से ‘‘वायरस का संक्रमण तेजी से फैला है।

महामारी के रोजाना सामने आने वाले मामलों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हुई है’’। याचिका में अस्पतालों में पर्याप्त बिस्तरों, वेंटिलेटरों, आईसीयू वार्डों एवं जांच केंद्रों की कमी का भी दावा किया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोरोना: अगले महीने मुंबई को पीछे छोड़ सकती है दिल्ली, एक्सपर्ट कमेटी ने दिल्ली सरकार को चेताया
2 कब तक करते रहेंगे खरीद-फरोख्त? हम भी दे सकते हैं आपको झटका’, अशोक गहलोत ने बीजेपी को चेताया
3 चेन्नई में 200 मौत का अता-पता नहीं, आंकड़ों में हेरफेर के बाद सरकार ने दिया कोरोना से मौत की ऑडिट का आदेश
IPL 2020 LIVE
X