ताज़ा खबर
 

कोरोना की दूसरी लहर बनी मुसीबत, एक लाख 26 हजार नए केस आए; दिल्ली में अंतिम संस्कार के लिए बढ़ाई गई जगह

बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए कई जगहों पर नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है। दूसरी तरफ वैक्सीन को लेकर राजनीति गर्म हो रही है।

corona virus, corona caseमुंबई के एक अस्पताल में कोरोना जांच के लिए सैंपल लेता कर्मचारी। फोटो- पीटीआई

कोरोना की दूसरी लहर बड़ा सिरदर्द साबित हो रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक गुरुवार को 1 लाख 26 हजार 789 नए मामले सामने आए। यह एक दिन में देश में आने वाले अब तक का सबसे ज्यादा केस है। 10 राज्यों में यह बेलगाम हो चुका है। 84.21 फीसदी केस महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, यूपी, दिल्ली, एमपी, तमिलनाडु, गुजरात, केरल और पंजाब से हैं। केरल के सीएम पिनाराई विजयन भी इसकी जद में आ गए हैं। एहतियात के तौर पर गाजियाबाद, नोएडा में 17 अप्रैल तक रात का कर्फ्यू लगा दिया गया है। इस बीच पीएम मोदी ने गुरुवार को मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर नियमों का कड़ाई से पालन कराने का आह्वान किया है।

देश में कोरोना का संक्रमण एक बार फिर तेजी से फैल रहा है। इसके चलते कई राज्यों में फिर लॉकडाउन जैसे हालात लौट आए हैं। भारत में पिछले 24 घंटे में COVID19 के 1,26,789 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,29,28,574 हुई। 685 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,66,862 हो गई है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 9,10,319 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,18,51,393 है।

मुख्यमंत्रियों की बैठक में मोदी का आह्वान कड़ाई से कराएं नियमों का पालन

कई जगहों पर मरीजों की संख्या बढ़ने से बेड और वेंटिलेटर की कमी भी देखी जा रही है। कोरोना की स्पीड को देखते हुए राजधानी दिल्ली के बाद कई और शहरों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। पंजाब में भी 30 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। बुधवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत, प्रयागराज, वाराणसी और कानपुर में भी नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया।

बेलगाम हुुआ कोरोना, प्रवासी भी छोड़ रहे शहर

लॉकडाउन के डर से बहुत सारे प्रवासी शहर छोड़कर गांव की तरफ भाग रहे हैं। कई लोगों को कहना है कि उनकी नौकरी चली गई है और गांव जाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। हालांकि इस बार अलग यह है कि ज्यादातर लोग सिंगल ही हैं। पिछले साल जब लॉकडाउन हुआ था तो लोग परिवार के साथ पैदल जाने को मजबूर हो गए थे।

Next Stories
1 गोदाम टूटेंगे तब आएगा लचीलापन, राकेश टिकैत बोले, ये बीजेपी की नहीं, कंपनी की सरकार है, लिया मोदी का भी नाम
2 महाराष्ट्रः अस्पताल का खाना चेक करने पहुंचे मंत्री, कॉन्ट्रैक्टर को जड़ दिया थप्पड़
3 बीमार पिता से मिलने जा रहा था, नाक से नीचे खिसका मास्क तो पुलिसवालों ने गिरा गिराकर पीटा
आज का राशिफल
X