ताज़ा खबर
 

देश के 60% हिस्सों में 14 अप्रैल के बाद खत्म हो सकता है लॉकडाउन, दो दिन बाद ही शिवराज सिंह चौहान ने लिया यू-टर्न

सरकार के सूत्रों के मुताबिक, लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर स्थितियां 10 अप्रैल के बाद साफ होंगी, जब टेस्ट्स के आंकड़े बढ़ेंगे और महामारी के उभार के बारे में पता चलेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को देश में तीन हफ्ते के लॉकडाउन का ऐलान किया था। (एक्सप्रेस फोटो)

भारत में कोरोनावायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। 21 दिन लंबे लॉकडाउन के 14 दिन पूरे हो जाने के बावजूद बुधवार को संक्रमितों का आंकड़ा 5000 के पार पहुंचने की आशंका है। सरकारी सूत्रों के मुताबिक, इन स्थितियों को देखते हुए केंद्र सरकार अब राज्यों की तरफ से देशभर में लॉकडाउन को बढ़ाने की मांग पर विचार कर रही है।

सूत्रों ने बताया, “केंद्र सरकार राज्यों के सुझावों पर ही विचार कर रही है। इसमें आखिरी फैसला प्रधानमंत्री सभी एक्सपर्ट्स से चर्चा करने और सभी पहलुओं को खंगालने के बाद ही लेंगे। हमें उम्मीद है कि सभी राज्य उनके फैसले का पालन करेंगे।”

लॉकडाउन पर चल रही चर्चा के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाले एक गैर आधिकारिक मंत्री समूह की बैठक में कृषि क्षेत्र के कार्यक्रम शुरू कराने के कदमों पर चर्चा हुई। सूत्रों के मुताबिक, “यह कटाई का सीजन है और सरकार का ध्यान इस बात पर है कि वह कृषि प्रक्रिया को कैसे आसान बनाए रखती है। पहले ही मशीनों और किसानी में जुटे लोगों के आने-जाने पर कुछ छूट दी गई है। लेकिन जमीन पर अभी सूचनाओं की कमी है। सूचनाओं का ठीक से पहुंचना जरूरी है, इसलिए राज्यों को इस काम के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।”

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले हफ्ते ही सभी राज्य के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए लॉकडाउन के अलग-अलग पहलुओं पर चर्चा की थी। इसके बाद से ही महाराष्ट्र समेत कम से कम 7 राज्य लॉकडाउन की मौजूदा 3 हफ्तों के बाद कुछ प्रतिबंध बनाए रखने की बात कह चुके हैं। कई मुख्यमंत्रियों ने प्रधानमंत्री से भी कहा है कि वे कृषि और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को पुनर्जीवित करने के लिए कुछ कदम उठाएंगे। केंद्र सरकार ने भी इशारा किया है कि लॉकडाउन का समय खत्म होने के बाद चरणबद्ध तरीके से इसे खोला जाएगा, हालांकि हॉटस्पॉट के तौर पर चिन्हित जगहों पर प्रतिबंध जारी रहेंगे।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं | क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

सरकार के सूत्रों का कहना है कि लॉकडाउन पर स्थिति पूरी तरह 10 अप्रैल के बाद ही साफ होगी, जब टेस्टिंग की संख्या बढ़ेगी और महामारी के फैलाव के नतीजे दिखने लगेंगे। सूत्रों के मुताबिक, “कोरोनावायरस से पूरा देश प्रभावित नहीं हुआ है।अब तक सिर्फ 284 जिले हैं, जो कि आधा देश भी नहीं है। इसलिए अभी यह कहना ठीक है कि 14 अप्रैल के बाद देश के लगभग 60 फीसदी हिस्से को प्रतिबंधों में कुछ छूट मिल सकती है। हालांकि, स्थितियां पहले जैसी नहीं होंगी। लेकिन कड़े प्रतिबंध अनिश्चिकाल के लिए तो जारी नहीं रह सकते।”

जहां एक तरफ केंद्र की तरफ से लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर कोई साफ इशारा नहीं किया गया, वहीं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, जो पिछले हफ्ते तक राज्य से तय समय पर लॉकडाउन हटाने की बात करते थे, उन्होंने भी यू-टर्न लेते हुए प्रतिबंध बढ़ाने की मांग रख दी। मध्य प्रदेश में अभी 229 मरीज हैं। दूसरी तरफ राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अलग-अलग फेजों में लॉकडाउन हटाने के पक्ष में नजर आए हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories