ताज़ा खबर
 

‘आप तो केजरीवाल के सलाहकार थे, दिल्ली रेड जोन कैसे बन गया?’ प्रशांत किशोर ने जोन बंटवारे पर उठाए सवाल तो टूट पड़े ट्रोल्स

सरकार ने देशभर में रेड जोन, ऑरेंज जोन व ग्रीन जोन वाले जिलों की नई सूची जारी की है। इसके बंटवारे पर कई नेता सरकार पर सवाल भी खड़े कर रहे हैं।

Prashant Kishorपॉलिटिकल स्ट्रैटजिस्ट प्रशांत किशोर। (फोटो-पीटीआई)

कोरोना वायरस का संक्रमण देश में बहुत तेजी से फैल रहा है। हर दिन हजारों की संख्या में लोग इसके प्रकोप में आ रहे हैं। इसको ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने कोरोना प्रभावित इलाकों को तीन ज़ोन में बांटा है। इसको लेकर सरकार ने देशभर में रेड जोन, ऑरेंज जोन व ग्रीन जोन वाले जिलों की नई सूची जारी की है। इसके बंटवारे पर कई नेता सरकार पर सवाल भी खड़े कर रहे हैं। जदयू के पूर्व उपाध्यक्ष और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर कहा है कि इसका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है।

प्रशांत किशोर ने ट्वीट लिखा “ज़ोन वर्गीकरण पर बहस करने वाले लोगों को ध्यान देना चाहिए कि इन वर्गीकरणों का शायद ही कोई वैज्ञानिक आधार हो। कलर टेस्ट के आधार पर दिये जाएंगे। हम सभी जानते हैं, कई ग्रीन जोन या ऑरेंज जोन का रंग टेस्ट की संख्या के आधार पर बादल जाएगा।” किशोर के ट्वीट पर यूजर्स उन्हें ट्रोल करने लगे। एक यूजर ने लिखा “अरे आप को अरविंद केजरीवाल के सलाहकार थे, फिर पूरा दिल्ली रेड जोन में कैसे आ गया। बस यहां ज्ञान पेलो।”

एक अन्य यूजर ने लिखा “बाबू साहब सरा ज्ञान आपके पास ही है क्या?राज्य, केन्द्र इनके पास आपके जैसे पढ़े लिखे लोगों की कमी नहीं है ।जो पूरा देश चला रहा है उसे आपसे तो ज्यादा तो समझ है है, काहे बिना बात सलाह दिए जा रहे हैं ऐसा करने से कोई नेता थोड़े बन जाइएगा।” एक यूजर ने लिखा “कभी फुर्सत मिलें तो बंगाल का भी हाल देश के सामने रख सकते हैं।”

इससे पहले जोन बंटवारे पर बंगाल सरकार ने आपत्ति जताई थी। राज्य के स्वास्थ्य सचिव विवेक कुमार ने केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव को पत्र लिखकर कहा था कि बंगाल में सिर्फ चार जिले रेड जोन में हैं, तो केंद्रीय लिस्ट में 10 जिले को रेड जोन क्यों बताए गए हैं? गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने बंगाल राज्य के 10 जिलों को रेड जोन में, 5 जिलों को ऑरेंज जोन में और 8 जिलों को ग्रीन जोन में रखा है। केंद्र सरकार की नहीं लिस्ट में कोलकाता, हावड़ा, उत्तर 24 परगना, दक्षिण 24 परगना, पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर, दार्जिलिंग, जलपाईगुड़ी, कलिमपोंग, मालदा को रेड जोन में रखा गया है। वहीं, हुगली, पश्चिम बर्धमान, नादिया, पूर्व बर्धमान व मुर्शिदाबाद को ऑरेंज जोन में रखा गया है। बाकी जिले ग्रीन जोन में हैं।

कोरोना वायरस से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए इन लिंक्स पर क्लिक करें | गृह मंत्रालय ने जारी की डिटेल गाइडलाइंस क्या पालतू कुत्ता-बिल्ली से भी फैल सकता है कोरोना वायरस? | घर बैठे इस तरह बनाएं फेस मास्क | इन वेबसाइट और ऐप्स से पाएं कोरोना वायरस के सटीक आंकड़ों की जानकारी, दुनिया और भारत के हर राज्य की मिलेगी डिटेल । क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 IAS अफसर मोहम्मद मोहसिन ने प्लाजमा डोनेशन पर की जमातियों की तारीफ, बीजेपी सरकार ने थमा दिया कारण बताओ नोटिस
2 लॉकडाउन के बीच ट्रैक्टर पर बैठे किसानों पर बाघ का हमला, तीन घायल; कैमरे में कैद वारदात
3 लॉकडाउन में साइकिल से जा रहे पति पत्नी की मौत, 500किमी चल थककर चढ़े वैन पर, पीछे से ट्रक ने मार दी टक्कर