ताज़ा खबर
 

दीपावली की तरह सड़क पर सज गईं दीए की दुकानें, मुरादाबाद में पीएम की अपील पर मिट्टी के दीए खरीद रहे लोग, यूजर्स आपस में उलझे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच अप्रैल को रात नौ बजे नौ मिनट तक अपने घर के बाहर या बालकनी में दीपक या रोशनी करने का आह्वान किया है। उनकी इस अपील का असर मुरादाबाद की गलियों में दिखने लगा है। लोग सड़क के किनारे दीपावली की तरह दीए की दुकानें सजा कर बैठे हैं।

मुरादाबाद में लोग सड़क के किनारे दीपावली की तरह दीए की दुकानें सजा कर बैठे हैं। (ANI)

एक तरफ कोरोना वायरस के कहर से पूरा देश 21 दिनों के लिए बंद है वहीं दूसरी तरफ प्रधानमंत्री की दिये जलाने की अपील के बाद लोगों ने  सड़कों पर दीपावली की तरह दीयों की दुकानें लगा ली हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच अप्रैल को रात नौ बजे नौ मिनट तक अपने घर के बाहर या बालकनी में दीपक या रोशनी करने का आह्वान किया है। उनकी इस अपील का असर मुरादाबाद की गलियों में दिखने लगा है। लोग सड़क के किनारे दीपावली की तरह दीए की दुकानें सजा कर बैठे हैं।

न्यूज़ एजेंसी एएनआई ने इस बाज़ार की तस्वीरें ट्वीट की हैं। जैसे ही एएनआई ने ये तस्वीरें शेयर की यूजर्स की प्रतिक्रियाएं आना शुरू हो हैं। कुछ लोगों ने इसके लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया तो कुछ इसका समर्थन भी कर रहे हैं। एक यूजर ने लिखा “ये सोशल डिस्टेंसिंग है? लॉकडाउन का मज़ाक बना दिया है।” एक यूजर ने लिखा “चलो इसी बहाने गरीबों को रोजगार मिला। थैंक्स मोदी जी।” एक अन्य यूजर ने लिखा “पटाखे कहा मिलेंगे?” एक ने लिखा “पीएम ने घर से बाहर निकालने को नहीं कहा है ये गलत है।”

Coronavirus in India LIVE Updates: यहां पढ़े कोरोना वायरस से जुड़ी सभी लाइव अपडेट 

शुक्रवार को पीएम मोदी ने पांच अप्रैल की रात को नौ बजे लोगों से घर की लाइटें बंद कर घर के दरवाजे या बालकनी में नौ मिनट के लिए एक दीया जलाने की अपील की थी। इस संदेश के जरिए पीएम ने देशवासियों के एकजुट होने की बात कही और कहा कि एकजुटता के दमपर ही इस महामारी को मात दी जा सकती है। इससे पहले पीएम मोदी की अपील पर जनता कर्फ्यू के दिन शाम को पांच बजे लोगों ने पांच मिनट तक थाली या घंटी बजाई थी।

बता दें देश में कोरोना से संक्रमित लोगों के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। देश में कोरोना के मरीजों का आधिकारिक आंकड़ा 3374 है। जिनमें 3030 एक्टिव केस हैं। 267 कोरोना से उबर चुके हैं और 77 मरीजों की मौत हुई है। हालांकि मीडिया रिपोर्ट्स में कुल आंकड़ा 3637 बताया जा रहा है। इनमें से 3203 एक्टिव केस हैं और 109 लोगों की मौत हो चुकी है।

जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस? । इन वेबसाइट और ऐप्स से पाएं कोरोना वायरस के सटीक आंकड़ों की जानकारी, दुनिया और भारत के हर राज्य की मिलेगी डिटेल । कोरोना संक्रमण के बीच सुर्खियों में आए तबलीगी जमात और मरकज की कैसे हुई शुरु

Next Stories
1 सरकार के खिलाफ बोला, स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी का रोना रोया तो भेज देंगे 6 महीने जेल, J&K के डॉक्टरों को थमाया अल्टीमेटम
2 दिल्ली में तब्लीगी मरकज ने फैलाया कोरोना, राजधानी में केस 500 के पार, 60 फीसदी मामले मरकज से जुड़े
3 लखनऊ में 16 नए लोग कोरोना पॉजिटिव, सीएम योगी ने बुलाई 12 नोडल अफसरों और 11 समितियों की बैठक
ये पढ़ा क्या?
X