ताज़ा खबर
 

CoronaVirus: निजामुद्दीन इलाके में 175 लोग कोरोना संदिग्ध, करीब 2000 को किया क्वारंटाइन

एक मस्जिद में इस महीने की शुरुआत में एक कार्यक्रम का आयोजन हुआ था। इस कार्यक्रम में विदेश से भी लोग आए हुए थे। लोग मलेशिया, इंडोनेशिया, सऊदी अरब और किर्गिस्तान से आए थे।

निजामुद्दीन इलाके के 175 लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षणों के बारे में जांच हुई है। (file)

भारत को 21 दिनों के लिए लॉकडाउन कर दिया गया है इसके बावजूद देश में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इसी बीच दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके से एक चौंकने वाली खबर आ रही है। निजामुद्दीन के तब्लीगी जमात के मरकज से करीब 175 लोगों को कोरोना संदिग्ध पाया गया है। सभी को जांच के लिए विभिन्न अस्पतालों में ले जाया गया है। मालूम हो कि यहां एक मस्जिद में इस महीने की शुरुआत में एक कार्यक्रम का आयोजन हुआ था। यहां लोगों के जुटने के दौरान कोरोना संक्रमण की बात सामने आई थी।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक इस कार्यक्रम में विदेश से भी लोग आए हुए थे। मस्जिद में मलेशिया, इंडोनेशिया, सऊदी अरब और किर्गिस्तान से लोग आए थे। इस महीने की शुरुआत में कार्यक्रम में भाग लेने के बाद एक व्यक्ति की मौत हो गई है और दो अन्य को कोरोना पॉज़िटिव पाया गया था। पॉज़िटिव पाये गए दोनों शख्स आंध्रा प्रदेश और श्रीनगर के रहने वाले थे, वहीं मरने वाला शख्स तमिलनाडु का रहने वाला बताया जा रहा है। शख्स की मौत कैसे हुई इस बात का खुलासा अभी नहीं हुआ है।

पुलिस अधिकारी ने कहा कि प्राधिकारियों की अनुमति के बिना एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें करीब 200 लोग शामिल हुए थे। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘जब हमें पता चला कि इस तरह का आयोजन किया गया था, तो हमने उन्हें कोरोना वायरस का प्रसार रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के तहत निषेधाज्ञा और लगायी गई पाबंदियों का उल्लंघन करने के लिए नोटिस दिया।’’ अधिकारी ने कहा, ‘‘कई लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण दिखने के बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया है और उनकी जांच की जा रही है।’’

Coronavirus in India LIVE Updates: यहां पढ़ें कोरोना वायरस से जुड़ी सभी लाइव अपडेट 

इस इलाके में हजारों की तादाद में लोग रहते हैं और सभी को बाहर निकलने से माना किया है। पुलिस ने पूरे इलाके को सील कर दिया है और ड्रोन से निगरानी राखी जा रही है। निजामुद्दीन इलाके में करीब 2000 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है। कुछ लोगों को दिल्ली के दूसरे इलाकों में शिफ्ट किया गया है।

बता दें इस महीने की शुरुआत में, दिल्ली सरकार ने धार्मिक, सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक कार्यक्रमों के साथ-साथ 31 मार्च तक 50 से अधिक लोगों के विरोध प्रदर्शनों के लिए एकत्र होने पर भी रोक लगा दी थी। साथ ही कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए बुधवार से 21 दिन के लिए लोगों के आवागमन पर देशव्यापी रोक लगायी गई थी।

देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। भारत में अबतक इस खतरनाक वायरस से 1074 लोग संक्रमित हो चुके हैं वहीं 29 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें से 99 लोग ठीक हो चुके हैं।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नोएडा के डीएम का तबादला, विभागीय जांच के आदेश; कोरोना को लेकर सीएम योगी ने लगाई थी फटकार
2 वायरस का खौफ: Coronavirus पीड़ित के दाह संस्कार पर नहीं जाने दिया गया परिवारवालों को! स्वास्थ्यकर्मियों ने दफनाई लाश उनके परिवार का कोई भी शख्स
3 लॉकडाउन के बीच बेबस मजदूर पहुंचे UP, नहलाया गया ‘केमिकल’ से! वीडियो शेयर कर बोलीं प्रियंका गांधी- अमानवीयता न करें
यह पढ़ा क्या?
X