ताज़ा खबर
 

महाराष्ट्र में फ्री में लगेगा कोरोना का टीका, फिर बढ़ाया जा सकता है लॉकडाउन

राज्य के राहत और पुनर्वास मंत्री विजय वादेत्तिवार ने मीडिया को बताया कि मुंबई में संक्रमण की स्थिति में कुछ कमी आई है, लेकिन राज्य के दूसरे हिस्सों में ऐसा नहीं है।

Covid-19, corona virusमहाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे। (फोटो-एएनआई)

महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के 18 से 44 वर्ष के सभी लोगों को मुफ्त में कोरोना का टीका लगाने का ऐलान किया है। महाराष्ट्र में कोरोना महामारी के भीषण रूप लेने तथा संक्रमित और मृतकों की संख्या में लगातार इजाफे को देखते हुए सरकार ने सभी को अनिवार्य रूप से टीका लगाने का फैसला किया है।

हालात के लगातार गंभीर होते देख आशंका जताई जा रही है कि सरकार लॉकडाउन जैसे प्रतिबंधों को 15 दिन के लिए और बढ़ा सकती है। इसे पहली मई से 15 मई के बीच करने की संभावना है। इस बारे में अंतिम निर्णय कैबिनेट की मीटिंग में लिया जा सकता है। राज्य के राहत और पुनर्वास मंत्री विजय वादेत्तिवार ने मीडिया को बताया कि मुंबई में संक्रमण की स्थिति में कुछ कमी आई है, लेकिन राज्य के दूसरे हिस्सों में ऐसा नहीं है। उन्होंने कहा कि “राज्य में प्रतिबंधों के इजाफे से कोविड केसों की संख्या मुंबई में कम हुई है, लेकिन विदर्भ, मराठवाड़ा और दूसरे हिस्सों में यह अब भी बढ़ रहा है।” उन्होंने संकेत दिया कि हालात की समीक्षा के बाद कैबिनेट इस बारे में कोई फैसला लेगा।

राज्य के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक नए मामलों पर रोजाना नजर रखी जा रही है और प्रतिबंधों को एक बार में नहीं, बल्कि धीरे-धीरे हटाया जाएगा। उन्होंने कहा, “छूट तब तक शुरू नहीं हो सकती जब तक कि कुछ दिनों के लिए नए मामले 35000-40000 से नीचे नहीं आ जाते हैं।”

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि लॉकडाउन प्रतिबंधों के दौरान राज्य अधिकतम लोगों का टीकाकरण करना जारी रखेगा। उन्होंने आगे कहा, “प्रतिबंध और टीकाकरण दोनों उपायों से कुछ दिनों तक संक्रमण पर नियंत्रण रखने में मदद मिलेगी।”

राज्य ने 14 अप्रैल से एक मई तक अतिरिक्त प्रतिबंध लगाया हुआ है। इससे अंतर जिला और अंतर-शहर यात्रा पर अंकुश लगा है और अंतर जिला और अंतर-राज्य आवागमन के लिए ई-पास को फिर से जारी किया है।

Next Stories
1 कोविड मरीज की मौत, भड़के परिजनों ने की मारपीट, कमरे में बंद हो गए डॉक्टर
2 कोरोनाः अस्पताल वाले मांगते रहे कागज़, अस्पताल के बाहर ऑटो में ही मरीज ने तोड़ दिया दम
3 कोरोनाः कानपुर के भैरव घाट पर भयावह हालात! श्मशान के बाहर लाशें छोड़ जा रहे लोग; आजिज कर्मी बोले- लोगों को जिम्मेदारी का अहसास नहीं है
ये पढ़ा क्या?
X