scorecardresearch

रमजान के बीच मेरठ में जागरण पर विवादः बोले इंस्पेक्टर- दंगा कराऊंगा क्या?..मेन रोड पर न होने दूंगा; BJP नेता बोले- जितनी ताकत हो लगा लेना

भाजपा नेताओं का कहना था कि यह कार्यक्रम परंपरागत रूप से हर साल उसी तिथि को होता आ रहा है, लिहाजा इसे बदला नहीं जाएगा। दोनों के बीच बहसबाजी का आडियो-वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

Uttar Pradesh, navratri, hindu jagran manch, Unnao
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

मेरठ के अतिसंवेदनशील इलाके हाशिमपुरा में दो मई की रात देवी जागरण कराने को लेकर स्थानीय भाजपा नेता और पुलिस इंस्पेक्टर के बीच जमकर बहस हुई। इंस्पेक्टर का कहना था कि वह हाइवे पर जागरण का कार्यक्रम उस दिन नहीं होने देंगे। उस दिन चांद रात या ईद पड़ सकती है। भाजपा नेताओं का कहना था कि यह कार्यक्रम परंपरागत रूप से हर साल उसी तिथि को होता आ रहा है, लिहाजा इसे बदला नहीं जाएगा। दोनों के बीच बहसबाजी का आडियो-वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

इंस्पेक्टर ने कहा कि “पिछले साल की अनुमति है तो रमजान के बाद जागरण करवा दूंगा।” इस पर भाजपा नेताओं ने कहा कि “जागरण परंपरागत रूप से हो रहा है, उसे हम टाल नहीं सकते हैं।” इंस्पेक्टर बोले “आपके कहने पर दंगा करा दूंगा क्या?..मेन रोड पर कतई नहीं होने दूंगा।” इस पर भाजपा नेता बोले- “जितनी ताकत हो लगा लेना। आपके वश की हो तो रोक लेना जागरण।”

इंस्पेक्टर ने कहा “हां! रोक लूंगा।” भाजपा नेता ने कहा कि “तुम्हारी जितनी ताकत हो लगा लेना…, जागरण होकर रहेगा।” इंस्पेक्टर ने भी चेतावनी दी कि “तुम कर लेना जाओ। हम नहीं करने देंगे।”

https://fb.watch/cEBhtmtFvb/

भाजपा नेता ने कहा कि हम भी देख लेंगे। कहा कि “मुसलमानों के हिसाब से हम अपनी देवी जी का जागरण नहीं बंद करेंगे।” इंस्पेक्टर ने कहा कि “मिश्रित आबादी है, वहां रमजान के दौरान कतई नहीं होने देंगे। कहा कि देश संविधान के हिसाब से चलता है।” भाजपा नेता ने कहा कि संविधान के हिसाब से परंपरागत प्रोग्राम है, कोई नई परंपरा नहीं शुरू की गई है। कहा कि “कोतवाल साहब तुममे जितना जोर हो लगा लेना और हम भी अपना जोर लगाएंगे।”

बोले कि “बुलडोजर लेकर आना, जितने भी वहां 10-20 हिंदू हो ढहा देना सबको। तुम चाहते हो कि इस देश से हिंदू निकल जाएं, पलायन कर जाएं।” कहा कि योगी जी की सरकार में देवी जागरण करने से रोका जाए यह संभव नहीं है। हर हाल में जागरण करके रहूंगा। इस संवेदनशील घटना को लेकर सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया भी हो रही है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X