ताज़ा खबर
 

कांग्रेस नेता ने कहा- इस देश की जनता को नपुंसक समझते हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

संदीप दीक्षित ने इससे पहले केंद्र सरकार पर निशाना साधा था। तब उन्होंने कहा था कि सरकार की नीति खासकर सर्जिकल स्‍ट्राइक पर नाटकीय प्रदर्शन रहे हैं, उसका कोई असर नहीं हो पाया है।

कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित। (Photo: ANI)

राष्ट्रीय राजधानी की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बेटे और पूर्व सांसद संदीप दीक्षित ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया है कि वह देश की जनता को नपुंसक समझते हैं। सामने आए वीडियो में वह कह रहे हैं, “सड़कों पर चले जाएं तो पता चलेगा कि प्रधानमंत्री के वाक्यों का एक तरह से मजाक बन गया है।” उन्होंने कहा, “मुझे नहीं लगता कि इस प्रधानमंत्री को कोई गंभीरता से लेता है। 70 साल में कांग्रेस और सरकार को तो छोड़िए, आपने लोगों की मेहनत को ही झूठ साबित कर दिया। ये इसलिए क्योंकि मोदी का इतना बड़ा अंहकार है कि मैं और मैं ही सब कुछ हूं। बाकी 125 करोड़ लोग बिल्कुल नपुंसक हैं इस देश में। अगर कोई है किसी काम का तो वह नरेंद्र मोदी हैं।”

पूर्व सासंद के इस बयान पर सोशल मीडिया यूजर्स ने उन पर निशाना साधा है। कई यूजर्स ने उनकी इस भाषा को कांग्रेस की भाषा बताया है, जबकि कुछ प्रतिक्रियाएं दीक्षित के समर्थन में भी हैं। एक यूजर्स लिखता है,  “क्यों जनता के कंधे पर बंदूक रख चलाते हो! सच्चाई ये है कि जो राजनेता पहले जनता को बरगला/बेवकूफ बना कर सत्ता भोग रहे थे, वो आज के समय में खुद को नपुंसक महसूस कर रहे हैं!” विजय सिंह लिखते हैं, “जनता तो नहीं कांग्रेसी जरूर नपुंसक हो गए हैं।” नरेश कुमार लिखते हैं, “जैसे कांग्रेसी नेताओं का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है, ऐसे लोगों को इलाज की जरूरत है।”

विनोद कुमार गुप्ता लिखते हैं, “पीएम नरेंद्र मोदी देश की जनता को देशभक्त समझते हैं और मान-सम्मान भी करते हैं, लेकिन संदीप दीक्षित की तरह नहीं जो सेना को गली का गुंडा कहें।” मनीष जायसवाल लिखते हैं, “पीएम नहीं आप समझते हैं नपुंसक।” आमिर लिखते हैं, “इस बार हम पकौड़ा बेच लेंगे, लेकिन अगली बार भाजपा को चाय बेचनी होगी।” एक अन्य कमेंट में लिखा गया कि छात्रों की जिंदगी खराब कर दी पीएम ने। कमल कुमार लिखते हैं, “संदीप ने सही कहा है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App