ताज़ा खबर
 

प्रियंका की एक झलक पाने के लिए बेकाबू हुए कांग्रेसी

कांग्रेस की नवनियुक्तमहासचिव प्रियंका गांधी बड़ी मुश्किल से सुरक्षाकर्मियों की भारी मशक्कत के बाद पार्टी मुख्यालय में बनाए गए अपने कमरे तक पहुंचने में कामयाब हुईं। खास बात यह थी कि जबरदस्त नारेबाजी और भीड़भाड़ के बावजूद उनके चेहरे पर मुस्कान दिख रही थी।

Author Published on: February 7, 2019 5:56 AM
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी। (Photo: PTI)

अजय पांडेय

दोपहर बाद करीब 4:15 बजे का वक्त। कांग्रेस के मीडिया हॉल में पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी अभी संवाददाताओं से मुखातिब ही हुए थे कि अचानक बाहर से जबरदस्त शोर-शराबे की आवाज सुनाई देने लगी। पलक झपकते खबरनवीस उधर लपके जिधर से आवाज आ रही थी। कांग्रेस मुख्यालय की दीवार से लगे सोनिया गांधी के निवास (10, जनपथ) की ओर से पार्टी मुख्यालय में खुलने वाले दरवाजे से कांग्रेस की नवनियुक्त महासचिव प्रियंका गांधी आतीं दिखीं। उनके चारों ओर जिंदाबाद के नारे लगाते पार्टी कार्यकर्ताओं का हुजूम और उनकी तस्वीर उतारने को हवा में लहराते कैमरे वालों का झुंड था। सफेद स्कार्फ गले में लपेटे प्रियंका ने चंद कदमों का फासला भी तय नहीं किया कि उनके चारों ओर सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गई। कांग्रेस की नवनियुक्तमहासचिव प्रियंका गांधी बड़ी मुश्किल से सुरक्षाकर्मियों की भारी मशक्कत के बाद पार्टी मुख्यालय में बनाए गए अपने कमरे तक पहुंचने में कामयाब हुईं। खास बात यह थी कि जबरदस्त नारेबाजी और भीड़भाड़ के बावजूद उनके चेहरे पर मुस्कान दिख रही थी।

पार्टी मुख्यालय में करीब 20-25 मिनट बिताने के बाद प्रियंका के निकलने के समय भी भीड़ का जुनून वैसा ही था। हालांकि सुरक्षाकर्मी उन्हें अपने सुरक्षा घेरे में लेकर उनको गाड़ी तक लेकर आए। सड़क के पार कार्यकर्ताओं का हुजूम विभिन्न अखबारों के फोटाग्राफरों के साथ जमा था। उनके आग्रह पर प्रियंका ने बीच सड़क पर गाड़ी रोक दी और खुद गाड़ी से बाहर निकल कर आ गर्इं। हालात का अंदाजा लगाकर दो-तीन मिनट के अंदर ही उन्हें गाड़ी में अंदर बैठ जाना पड़ा और उनका काफिला आगे निकल गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 उत्तराखंड सरकार ने भी लागू किया गरीब सवर्णों को आरक्षण का फैसला, जारी हुआ अध्यादेश
2 Kumbh Mela 2019: ‘भूले-भटके बाबा’ का बेहतरीन मिशन, अब तक सवा करोड़ बिछड़ों को अपनों से मिला चुका है कैंप
3 Delhi Metro: रेड लाइन के 8 नए स्टेशनों पर जल्द शुरू होगा ऑपरेशन, जुड़ जाएंगे ये इलाके