ताज़ा खबर
 

Goa: कांग्रेस बोली- पर्रिकर के बाद BJP के साथ अब कोई दल नहीं, हमें मिले सरकार बनाने का न्योता

मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद गोवा में सियासत फिर तेज हो गई है। मुख्यमंत्री की कुर्सी खाली होते ही कांग्रेस ने राज्यपाल को चिट्ठी लिखकर सरकार बनाने का न्योता देने की मांग की है। सभी खेमों में विधायकों की बैठकों का दौर शुरू हो गया है।

Manohar Parrikarगोवा में मुख्यमंत्री पर्रिकर के निधन के बाद कांग्रेस ने शुरू की सरकार गठन की जद्दोजहद (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

Lok Sabha Election 2019 से पहले गोवा में मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद एक बार फिर सियासी हलचल तेज हो गई है। जानकारी के मुताबिक, बीजेपी अपने विधायकों, मंत्रियों और सहयोगी दलों को शहर के एक होटल में एकजुट कर रही है। वहीं, कांग्रेस ने एक बार फिर राज्यपाल से सरकार बनाने का न्योता देने की मांग की है। पर्रिकर के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कांग्रेस ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा से कहा, ‘इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना के चलते आपकी तरफ से तत्काल कार्यवाही की जरूरत है ताकि सत्ता का संचालन सुचारू रूप से होता रहे।’ उल्लेखनीय है कि गोवा में 23 अप्रैल को लोकसभा चुनाव के लिए मतदान होना है।

कांग्रेस ने कहा, ‘बीजेपी के साथ गोवा में मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व में सरकार बनने की शर्त पर ही अन्य दलों ने बीजेपी के साथ गठबंधन किया था। तब पर्रिकर देश के रक्षा मंत्री थे। अब उनका निधन हो चुका है। ऐसे में अब बीजेपी के पास कोई साथी दल नहीं है।’ गोवा कांग्रेस अध्यक्ष गिरिश कोडनकर और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष चंद्रकांत केवलकर के हस्ताक्षर वाली चिट्ठी में कहा गया है, ‘कांग्रेस राज्य में सबसे बड़ी पार्टी है। ऐसे में कांग्रेस विधायक दल के नेता को सरकार बनाने के लिए न्योता दिया जाना चाहिए।’

Goa Live Updates : गोवा के राजनीतिक हालात पर जानें पल-पल की खबर

बीजेपी और कांग्रेस दोनों ने आनन-फानन में अपने विधायकों की बैठक बुलाई है, जिसकी अध्यक्षता पार्टियों के केंद्रीय पर्यवेक्षक कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि इससे पहले रविवार (17 मार्च) को पर्रिकर के निधन से पहले दिगंबर कामत की दिल्ली यात्रा से भी कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे। वहीं, कांग्रेस ने राज्यपाल पर बीजेपी के पदाधिकारी के तौर पर काम करने का आरोप लगाया और कहा कि राज्यपाल ने उन्हें मुलाकात का समय नहीं दिया, लेकिन बीजेपी पदाधिकारियों से मुलाकात कर ली।

विधायकों को जोड़ने की मुहिम सिर्फ बीजेपी-कांग्रेस में नहीं चल रही। बीजेपी के साथ गठबंधन करने वालों और निर्दलीय विधायकों के साथ गोवा फॉरवर्ड पार्टी के नेता विजय सरदेसाई ने अपने आवास पर अलग से मुलाकात की। फिलहाल गोवा की सियासत में सबसे बड़ा सवाल यही है कि पर्रिकर का उत्तराधिकारी किसे बनाया जाएगा।

Next Stories
1 मनोहर पर्रिकर पहले ऐसे रक्षामंत्री, जो खुद गए थे शहीदों को श्रद्धांजलि देने, कानपुर को बताया था वीरों की भूमि
2 UP: आजमगढ़ में पटाखे के गोदाम में लगी आग, जिंदा जल गए 5 लोग, 12 झुलसे
3 Priyanka Gandhi Ganga Yatra: वाराणसी के लिए रवाना हुई प्रियंका की गंगा यात्रा, लोगों से बोलीं- देश की हिफाजत आपके हाथों में
आज का राशिफल
X