ताज़ा खबर
 

सोनभद्र जाने पर अड़ी प्रियंका गांधी, बोलीं- नहीं भरूंगी जमानत, जेल जाने को तैयार; रॉबर्ट वाड्रा ने कही यह बात

फिलहाल पुलिस ने प्रियंका गांधी को चुनार गेस्ट हाउस में हिरासत में रखा है। जमानत भरने पर प्रियंका गांधी को छोड़ा जाएगा। इस बीच किसी कारण चुनार गेस्ट हाउस की बिजली कट गई तो प्रियंका गांधी अंधेरे में ही कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रही हैं।

रात में धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी वाड्रा फोटो सोर्स- ट्विटर/UP CONGRESS

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में सामूहिक हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को प्रशासन द्वारा रोके जाने के बाद उनके पति रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि प्रियंका की ‘गिरफ्तारी’ असंवैधानिक है तथा उन्हें तत्काल रिहा किया जाना चाहिए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फिलहाल प्रियंका गांधी को चुनार गेस्ट हाउस में हिरासत में रखा गया है। इस बीच लोकल फाल्ट के चलते गेस्ट हाउस की बिजली कट गई है। जिस वजह से प्रियंका गांधी अंधेरे में ही गेस्ट हाउस में कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रही हैं। बताया जा रहा है कि प्रशासन के आला अधिकारियों ने उन्हें मनाने की काफी कोशिश की, मगर वह सोनभद्र हत्याकांड के पीड़ित के परिजनों से मिलने देने या फिर जेल भेजने की बात पर अड़ी हैं। प्रियंका का कहना है कि वह पीड़ितों और उनके परिजनों से मिले बिना नहीं जाएंगी। जो पीड़ित हैं, उनसे मिलना एक नेता का धर्म होता है, अपराध नहीं। उन्होंने जमानत भरने से भी मना कर दिया है।

प्रियंका को रोके जाने पर बोले रॉबर्ट वाड्रा: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को प्रशासन द्वारा सोनभद्र रोके जाने के बाद उनके पति रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि लोकतंत्र को तानाशाही में तब्दील नहीं किया जाना चाहिए। वाड्रा ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मेरी पत्नी और कांग्रेस नेता प्रियंका को जिस तरह से गिरफ्तार किया गया है वह पूरी तरह असंवैधानिक है। गिरफ्तारी के लिए कोई दस्तावेज पेश नहीं किया गया। उन्होंने आगे कहा, ‘‘सरकार को उन्हें तत्काल रिहा करना चाहिए। लोकतंत्र को तानाशाही में नहीं बदला जाए।’’ गौरतलब है कि बुधवार को सोनभद्र में हुए सामूहिक हत्याकांड में 10 लोगों की मौत हो गई थी। ऐसे में शुक्रवार को प्रियंका पीड़ित परिवारों से मिलने जा रहीं थी। लेकिन प्रशासन ने उन्हें रास्ते में ही रोक दिया, जिसके चलते प्रियंका धरने पर बैठ गई हैं।

सोनभद्र जाने पर अड़ी प्रियंका: प्रियंका गांधी वाड्रा को सोनभद्र जाने से रोकने पर वह सड़क पर ही पाल्थी मारकर बैठ गईं और जोर देने लगीं कि उन्हें आगे जाने की इजाजत दी जाए। इसके बाद वहां मौजूद अधिकारियों ने उन्हें हिरासत में ले लिया और उन्हें एक अतिथि गृह ले जाया गया। प्रियंका ने वारदात में मारे गये लोगों के परिजन को 25-25 लाख रुपए का मुआवजा और जमीन पर मालिकाना हक दिए जाने की भी मांग की। वहीं प्रियंका के साथ अतिथि गृह लाए गए प्रदेश कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार सिंह ‘लल्लू’ ने कहा कि हम कह रहे हैं कि या तो आप हमें जेल भेज दीजिये नहीं तो पीड़ित परिजन से मिलने दीजिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X
Testing git commit