ताज़ा खबर
 

UP: इस शख्स ने लोगों की प्यास बुझाने के लिए अकेले खोद डाला 8 बीघे का तालाब, प्रियंका गांधी ने भी की तारीफ

बूंद-बूंद पानी के लिए तरसते बुंदेलखंड के एक गांव में करीब 4 साल से दिन-रात मेहनत करके कृष्णानंद ने 6 फुट गहरा तालाब महज इसलिए खोदा ताकि आने वाली बारिश में यह पानी से लबालब हो जाए और उसके गांव के लोगों और जानवरों को पानी के लिए दर-दर भटकना न पड़े।

Author हमीरपुर | Updated: July 9, 2019 1:49 PM
प्रियंका गांधी वाड्रा और कृष्णानंद फोटो सोर्स- सोशल मीडिया

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश के हमीरपुर के रहने वाले कृष्णानंद की तारीफ करते हुए एक ट्वीट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि कृष्णानंद जी ने अपने अनथक प्रयासों से सूखे जैसी भीषण आपदा को भी हरा दिया। हम उनके इस साहस को सलाम करते हैं। इससे पहले प्रियंका ने एक शायरी लिखते हुए कृष्णानंद की तारीफ में कसीदे पढ़े। उन्होंने लिखा, “लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।” गौरतलब है कि सूखे की मार झेल रहे बुंदेलखंड इलाके में कृष्णानंद ने आठ बीघे का तालाब खोद कर एक मिसाल पेश की है।

National Hindi News, 09 July 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक 

प्रियंका गांधी ने किया ट्वीट: दरअसल, करीब एक दशक से मौसम की बेरुखी झेल रहे यूपी के बुंदेलखंड में पानी की कमी के चलते हालात बहुत खराब हो चुके हैं। ऐसे हालात में हमीरपुर के सुमेरपुर थाना क्षेत्र के बड़ा पचखुरा गांव के एक मंदिर में रहने वाले कृष्णानंद ने ‘दशरथ मांझी’ की तर्ज पर एक सराहनीय पहल की है। उन्होंने अपने दम पर 4 साल से दिन-रात मेहनत करके 8 बीघे का तालाब खोद कर पानी की व्यवस्था कर डाली। उनकी इस कारनामे से खुश होकर प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर लिखा, “लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।”
उन्होंने आगे लिखा, “हमीरपुर के कृष्णानंद जी ने अपने अनथक प्रयासों से सूखे जैसी भीषण आपदा को भी हरा दिया। हम उनके इस साहस को सलाम करते हैं।”

पानी से लबालब भर गया तालाब: बताया जा रहा है कि कृष्णानंद ने तालाब खोदने के साथ ही मेडबंदी भी कर दी है। कृष्णानंद की इस पहल ने बुंदेलखंड में बारिश के पानी के प्रबंधन की एक नई पहल की शुरुआत की है। बताया जा रहा है कि इस समय बारिश के पानी से यह तालाब भर चुका है। ऐसे में लोगों को और उनके जानवरों के लिए पानी की समुचित व्यवस्था हो गई है। गौरतलब है कि सरकार इस समय बुंदेलखंड में खेत और तालाब योजना पर बल दे रही है। लेकिन कृष्णानंद के इस कार्य की चारों तरफ तारीफ हो रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 TMC नेताओं ने लौटाई 1.5 लाख रुपए की कट मनी, कहा- पार्टी चलाने के कमीशन लिया था, निजी इस्तेमाल के लिए नहीं
2 गवर्नर से शिकायत- सैलरी लेकर काम करने दफ्तर नहीं जा रहे सिद्धू, सरकारी सेवाओं का उठा रहे मजा
3 गुजरात सरकार के नौकरियां देने में 5 साल में 85 फीसदी की गिरावट
ये पढ़ा क्या?
X