राजस्‍थान: कांग्रेस ने 25 विधानसभा सीटों के लिए बनाई विशेष रणनीति, सेवा दल देगा अंजाम

राजस्थान सेवा दल के अध्यक्ष राजेश पारीक ने जानकारी दी है कि इन 25 विधानसभा सीटों में कांग्रेस के प्रचार के लिए प्रशिक्षित कार्यकर्ताओं का चयन किया जाएगा। इन प्रशिक्षित कार्यकर्ताओं के ऊपर कांग्रेस का प्रचार करने का जिम्मा होगा।

कांग्रेस सेवा दल के कार्यकर्ता (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

राजस्थान समेत मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। कांग्रेस और बीजेपी, दोनों ही राजनीतिक पार्टियां इन चुनावों में अच्छा प्रदर्शन करने और जीत हासिल करने के मकसद से चुनावी रण में उतरने वाली हैं। दोनों पार्टियों द्वारा चुनावों को लेकर जोरशोर से तैयारियां की जा रही हैं। राजस्थान विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस की तरफ से खास रणनीति बनाई गई है। ईटी के मुताबिक कांग्रेस ने राजस्थान की 25 विधानसभा सीटों में प्रचार के लिए अपने संगठन सेवा दल का चयन किया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक इन चुनिंदा 25 विधानसभा सीटों में सेवा दल के कार्यकर्ता डोर-टू-डोर जाकर कांग्रेस के लिए प्रचार करेंगे। इन 25 सीटों में उन विधानसभा क्षेत्रों का चयन किया गया है, जिनमें पिछले करीब 4 से 5 चुनावों में कांग्रेस को जीत नहीं मिली है। इन सीटों में कांग्रेस अपनी जड़े मजबूत करने की कोशिश में है, इसलिए पार्टी द्वारा डोर-टू-डोर चुनाव अभियान करने का फैसला किया गया है।

राजस्थान सेवा दल के अध्यक्ष राजेश पारीक ने जानकारी दी है कि इन 25 विधानसभा सीटों में कांग्रेस के प्रचार के लिए प्रशिक्षित कार्यकर्ताओं का चयन किया जाएगा। इन प्रशिक्षित कार्यकर्ताओं के ऊपर कांग्रेस का प्रचार करने का जिम्मा होगा। पारीक ने कहा, ‘हमारे पास कई ऐसे कार्यकर्ता हैं जो राजस्थान की 25 विधानसभा सीटों में कांग्रेस की जीत सुनिश्चित करने के ऊद्देश्य से जमीनी स्तर पर काम करेंगे। ये कार्यकर्ता उन सीटों पर कांग्रेस की स्थिति मजबूत करने के लिए काम करेंगे, जहां बीजेपी की अच्छी पकड़ है। ये कार्यकर्ता 25 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के लोगों को कांग्रेस की विचारधारा से अवगत कराएंगे और पार्टी का उद्देश्य लोगों तक पहुंचाएंगे। इन सीटों में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया की झालरापाटन सीट भी शामिल है।’

बता दें कि राजस्थान में कांग्रेस एक बार फिर से वापसी करने की तैयारी में है। इसे लेकर कांग्रेस की तरफ से रैलियों का आयोजन भी शुरू किया जा चुका है। कांग्रेस की तरफ से संकल्प रैली निकाली जा रही है। इस रैली में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव अशोक गहलोत, राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष सचिन पायलट भी शिरकत करेंगे।