ताज़ा खबर
 

कांग्रेस एमएलए ने कहा- स्‍वतंत्रता सेनानी थे मो. अली जिन्‍ना, एएमयू में फोटो लगी तो गलत क्‍या है

हरियाणा में कांग्रेस के विधायक करन दलाल ने जिन्ना को स्वतंत्रता सेनानी बताते हुए कहा है कि विश्वविद्यालय में जिन्ना की तस्वीर लगे होने में गलत क्या है।

पाकिस्तान के कायदे आजम मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर अलीगढ़ मुस्लिम विवि में लगाने पर हंगामा मचा था। (फोटो-सोशल मीडिया)

अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में पाकिस्तान के कायदे-आजम मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगे होने पर हंगामा मचा है। उधर हरियाणा में कांग्रेस के विधायक करन दलाल ने जिन्ना को स्वतंत्रता सेनानी बताते हुए कहा है कि विश्वविद्यालय में जिन्ना की तस्वीर लगे होने में गलत क्या है।

उन्होंने कहा कि हमें हर किसी की तस्वीर का सम्मान करना चाहिए। हमें उन सभी नेताओं का शुक्रगुजार होना चाहिए, जिन्होंने देश के लिए आजादी की लड़ाई में भूमिका निभाई। भले ही कुछ पाकिस्तान से हो सकते हैं मगर हम सबने एक साथ आजादी की लड़ाई लड़ी। पाकिस्तान खुद शहीद भगत सिंह का सम्मान करता है।आजादी की लड़ाई लड़ने वाले सभी नेता सम्मान के पात्र हैं।

दरअसल अलीगढ़ के बीजपी सांसद सतीश गौतम ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति को पत्र लिखकर मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर उतारे जाने का आग्रह किया था। यह तस्वीर छात्रसंघ भवन के सामने लगी थी। सांसद ने कहा था कि जिन्ना की तस्वीर देश में कही भी नहीं लगनी चाहिए।

उधर बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि जो शख्स भारत के बंटवारे का जिम्मेदार है, उसकी तस्वीर की विश्वविद्यालय में कोई जगह नहीं है।उधर लखनऊ के शिया धर्मगुरु मौलाना एजाज मिर्जा ने भी मोहम्मद जिन्ना की तस्वीर हटाने की मुहिम का समर्थन किया है। उधर अलीगढ़ मुस्लिम छात्रसंघ के एक पूर्व पदाधिकारी ने कहा कि यह तस्वीर आजादी से पहले 1938 की है, जब महात्मा गांधी के साथ उस समय के दिग्गज नेताओं में से एक मोहम्मद जिन्ना को विश्वविद्यालय की आजीवन सदस्यता दी गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App