बीजेपी जब भी डरती है तीसरा फ्रंट तैयार कर देती है- बोले हार्दिक पटेल: NCP-BSP के बाद अब AAP भी इसी का हिस्सा

अगले साल गुजरात में विधानसभा चुनाव होना है और सारी पार्टियां इसकी तैयारियों में जुटी है। आम आदमी पार्टी पर टिप्पणी करते हुए कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल ने कहा कि आप, बीजेपी की बी-टीम है।

Hardik Patel aap bjp remark
गुजरात कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल (फोटो- एक्सप्रेस आर्काइव)

अगले साल गुजरात में विधानसभा चुनाव होने हैं। बीजेपी और कांग्रेस में सीधी टक्कर के बीच आम आदमी पार्टी इसे त्रिकोणीय बनाने का प्रयास करती दिख रही है। इसी को लेकर गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने आप को बीजेपी की बी टीम बताया है।

इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए हार्दिक पटेल ने कहा कि आम आदमी पार्टी बीजेपी के साथ ही मिली हुई है। हार्दिक पटेल ने कहा है कि आम आदमी पार्टी (आप) का गुजरात चुनाव लड़ना, भाजपा विरोधी वोटों को कांग्रेस से दूर करने के लिए “भाजपा की चाल” का हिस्सा है।

पटेल ने आगे कहा कि जब भी भाजपा को डर लगने लगता है, वे गुजरात में तीसरा मोर्चा खड़ा करती है। यही काम बीजेपी हर चुनाव में करती है। चाहे वो 2007 में महागुजरात जनता परिषद हो, 2012 में गुजरात परिवर्तन पार्टी हो, या फिर एनसीपी हो या बसपा, और अब आम आदमी पार्टी है।

आप को बीजेपी की बी टीम बताते हुए पटेल ने दावा किया कि जहां आम आदमी पार्टी के बैनर को सार्वजनिक प्रदर्शन पर रहने दिया गया, जबकि कांग्रेस के लिए ऐसा नहीं है। हार्दिक ने कहा- “मैं जो कह रहा हूं उसको साबित करने के लिए मेरे पास सबूतों की एक सूची है। आप का बैनर दो महीने से अधिक समय तक लगा हुआ है। जबकि कांग्रेस के बैनर को तुरंत हटा दिया जाता है। जूनागढ़ के मामले को देखें, उस पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। अगर इसमें हमारे नेताओं को शामिल करना होता, तो समन होते और पुलिस हमारे खिलाफ मामले दर्ज करती।

AAP ने दावा किया था कि 30 जून को उसके नेताओं के काफिले पर हमला किया गया था, इस घटना पर आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने तब ट्वीट किया था। उन्होंने गुजरात के सीएन विजय रूपाणी से बात की थी और गुजरात में आप कार्यकर्ताओं की सुरक्षा की मांग की थी।

हार्दिक के अनुसार, 2022 के विधानसभा चुनावों में गुजरात की स्थिति कांग्रेस के लिए फायदेमंद है और भाजपा कांग्रेस को वोट देने से रोकने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास गुजरात में समर्पित 1.5 करोड़ या उससे अधिक मतदाता हैं।

हार्दिक से सूरत नगर निगम में आप की जीत को लेकर जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह हमारी गलती थी। क्योंकि हमने कुछ उम्मीदवारों को टिकट देने से इनकार कर दिया। हमारे आंदोलन का असर आज भी ग्रामीण इलाकों में बना हुआ है और इस बार अगर हम कोई गलती नहीं करते हैं तो 2022 में हम जीत सकते हैं।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट