congress chhattisgarh under financial crisis take donation from party workers for assembly election - इस राज्य में खस्ता हुए कांग्रेस के आर्थिक हालात, कार्यकर्ताओं के पैसे से चुनाव लड़ने की तैयारी - Jansatta
ताज़ा खबर
 

इस राज्य में खस्ता हुए कांग्रेस के आर्थिक हालात, कार्यकर्ताओं के पैसे से चुनाव लड़ने की तैयारी

संकल्प शिविर के लिए कांग्रेस ने टिकट के सभी दावेदारों से 50-50 हजार रुपए का चंदा लिया है। साथ ही टिकट दावेदारों को पहले ही यह साफ कर दिया गया है कि टिकट चाहे जिसे भी मिले, सभी लोग चुने गए प्रत्याशी के पक्ष में पूरी ईमानदारी से मेहनत करेंगे।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस गहरे आर्थिक संकट में। (file photo)

कांग्रेस पार्टी कई राज्यों में इस समय बुरे हालात से गुजर रही है। छत्तीसगढ़ में हालात ये हैं कि कांग्रेस को चुनाव लड़ने के लिए भी कार्यकर्ताओं से चंदा इकट्ठा करना पड़ रहा है। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पिछले 15 सालों से सत्ता से दूर है, जिससे पार्टी की आर्थिक स्थिति बुरी तरह से चरमरा गई है। बताया जा रहा है कि आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस अपने प्रत्याशियों की उतनी मदद नहीं कर पाएगी, जितनी पहले किया करती थी। चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों को भी सारा पैसा अपनी जेब से ही खर्च करना पड़ेगा।

टिकट के दावेदार देंगे चंदाः छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने अपनी स्थिति को सुधारने के लिए कार्यकर्ताओं और पार्टी की ओर से टिकट के दावेदारों से चंदा लेने का फैसला किया है। हालात यहां तक खराब हैं कि कांग्रेस के पास कोई कार्यक्रम आयोजित करने के भी पैसे नहीं है। कांग्रेस पार्टी ने टिकट वितरण को लेकर होने वाली भीतरघात से बचने के लिए जगह-जगह संकल्प शिविर का आयोजन कर रही है। खबर है कि इन संकल्प शिविर के लिए कांग्रेस ने टिकट के सभी दावेदारों से 50-50 हजार रुपए का चंदा लिया है। साथ ही टिकट दावेदारों को पहले ही यह साफ कर दिया गया है कि टिकट चाहे जिसे भी मिले, सभी लोग चुने गए प्रत्याशी के पक्ष में पूरी ईमानदारी से मेहनत करेंगे।

मंगलवार को रायपुर की उत्तर विधानसभा सीट पर संकल्प शिविर का आयोजन किया गया। बुधवार को रायपुर की दक्षिण विधानसभा सीट पर संकल्प शिविर का आयोजन किया गया। उल्लेखनीय है कि चंदा देने वाले दावेदारों और कार्यकर्ताओं को ही संकल्प शिविर के दौरान मंच पर बड़े नेताओँ के साथ खड़े होने की इजाजत दी जा रही है। वहीं कांग्रेस ने इस मुद्दे पर सफाई देते हुए कहा है कि हम अपने कार्यकर्ताओं का सहयोग लेकर कार्यक्रम कर रहे हैं तो इसमें किसी को क्या आपत्ति है? हमारे कार्यकर्ता हमारा सहयोग कर रहे हैं और हम उन्हें मंच पर बुलाकर उनका सम्मान कर रहे हैं, तो इसमें गलत क्या है? कांग्रेस नेताओं का कहना है कि कांग्रेस पैसे से नहीं, अपने कार्यकर्ताओं के दम पर चुनाव लड़ेगी। बता दें कि इस साल के अंत में छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव होने हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App