ताज़ा खबर
 

भाजपा के विकास को कांग्रेस ने ‘शोले’ के अंदाज में ऐसे दिया जवाब

नवंबर में कांग्रेस ने सूरत में 'शोले' के चरित्रों के साथ एक रैली निकालकर जीएसटी के क्रियान्वयन के तौर-तरीकों के प्रति अपना रुख रखा था।

Author नई दिल्ली | December 8, 2017 15:02 pm
गुजरात में चुनाव प्रचार करते राहुल गांधी। (फाइल फोटो)

गुजरात विधानसभा चुनाव में मतदाताओं तक अपनी बात पहुंचाने के लिए नायाब तरीके अपनाए जा रहे हैं। कांग्रेस ने अपने प्रचार अभियान के लिए फिल्म ‘शोले’ को चुना है। पार्टी ने फिल्म के दो कैरेक्टर ‘जय’ (अमिताभ बच्चन) और ‘मौसी’ के बीच ‘वीरू’ (धर्मेंद्र) की ‘बंसती’ से शादी कराने को लेकर हुई बातचीत को दिलचस्प तरीके से पेश किया है। गुजरात में विपक्षी पार्टी ने इसके जरिये भाजपा के विकास के दावे को बिल्कुल अलग अंदाज में खारिज किया है।

यह कोई पहला मौका नहीं है जब कांग्रेस ने ‘शोले’ फिल्म के चरित्रों के साथ भाजपा के विकास के मॉडल को खारिज किया है। ताजा वीडियो से पहले नवंबर में कांग्रेस ने सूरत में ‘शोले’ के चरित्रों के साथ एक रैली निकालकर जीएसटी के क्रियान्वयन के तौर-तरीकों के प्रति अपना रुख रखा था। इस बार सिर्फ ‘जय’ और ‘मौसी’ के बीच के लोकप्रिय संवाद के जरिये भाजपा के विकास के मॉडल को धता बताया गया है। इसमें देश और गुजरात में बढ़ती बेरोजगारी पर भी हमला बोला गया है। साथ ही प्रधानमंत्री के विदेश दौरों पर सवाल उठाए गए हैं। इस वीडियो के जरिये कांग्रेस ने पूछा है कि देश से बेरोजगारी कब हटेगी और सरकार गरीब तबकों के लिए कब से काम करना शुरू करेगी। विपक्षी पार्टी ने पूछा है कि मोदी सरकार क्या पूंजीपतियों के लिए ही काम करती रहेगी? इसके अलावा नोटबंदी पर भी हमला बोला गया है। पार्टी ने इस वीडियो के माध्यम से मोदी सरकार से तीन साल में किए गए काम का ब्योरा भी मांगा है और बड़ी-बड़ी कंपनियों के पक्ष में काम करने का भी आरोप लगाया है। वीडियो में मतदाताओं की नाराजगी के बारे में भी बताने की कोशिश की गई है। साथ ही डिजाइनर सूट पर भी तना मारा गया है।

वीडियो पर लोगों ने मिलीजुली प्रतिक्रियाएं दी हैं। चमन टापरी ने ट्वीट किया, ‘क्या ओबीसी नरेंद्र मोदी सूट नहीं पहन सकते या विदेश नहीं जा सकते हैं?’ वाजरा ने लिखा, ‘जिस भाषा का प्रयोग किया गया है, लगता है इसका भी फायदा बीजेपी को होने वाला है। ऐसा एरोगेंस वोट नहीं दिलाता है।’ आशा विनय राज ने ट्वीट किया, ‘बेहतरीन, कृपया इसे सलीम और जावेद जी को भेजिए। वे भी इससे प्रभावित होंगे।’ एक अन्य यूजर ने ट्वीट किया, ‘भाजपा सरकार क्रोनी कैपिटलिस्ट के लिए है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App