ताज़ा खबर
 

बरेली: मंदिर में तोड़फोड, पुजारी की पिटाई के बाद इलाके में सांप्रदायिक तनाव

जिले की आंवला तहसील क्षेत्र के रइटुइया गांव में चार व्यक्तियों ने एक मंदिर के पुजारी की कथित तौर पर पिटाई कर दी और मंदिर की मूर्तियां तोड़ दी जिसके बाद वहां सांप्रदायिक तनाव फैल गया।

प्रतीकात्मक तस्वीर

जिले की आंवला तहसील क्षेत्र के रइटुइया गांव में चार व्यक्तियों ने एक मंदिर के पुजारी की कथित तौर पर पिटाई कर दी और मंदिर की मूर्तियां तोड़ दी जिसके बाद वहां सांप्रदायिक तनाव फैल गया। जिलाधिकारी वीरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि चार आरोपियों में से तीन को रात को गिरफ्तार किया गया और क्षतिग्रस्त मूर्तियों को हटा दिया गया है। उन्होंने बताया कि नयी मूर्तियां स्थापित करने की प्रक्रिया जारी है।

पुलिस ने बताया कि बीती रात पुजारी अनिल पंडित मंदिर की सफाई कर रहे थे। उसी समय चार व्यक्ति … हसनैन, नदीम, मसीम और फिरासत नशे की हालत में वहां आए और उन्होंने पुजारी को पीटा। इन लोगों ने मंदिर की प्रतिमाओं को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।
उन्होंने बताया कि अनिल किसी तरह वहां से निकला और गांव पहुंचा।

घटना को लेकर दो प्रतिद्वन्द्वी गुटों में भी टकराव हो गया।बरेली के जिलाधिकारी वीरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि देर रात तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि एक की तलाश जारी है । गांव में अतिरिक्त बल तैनात कर दिया गया है। गांव में हालात सामान्य है। गौरतलब है कि इससे पहले भी कई बार मंदिरों में तोड़फोड़ के किस्से आए हैं। गौरतलब है कि इससे पहले मई के माह में राजस्थान के पुष्कर में स्थित ब्रह्मा के मंदिर के पुजारी पर भी एक शख्स ने हमला किया था। इस घटना एक वीडियो भी सामने आया था, जिसमें एक शख्स पुजारी को हथियार से पीटता हुआ दिखाई दे रहा था। पुजारी किसी तरह जैसे ही खुद को बचाने की कोशिश करता है तो वह फिर से उसे पीटता है। वह शख्स मंदिर में आने वाले लोगों पर भी हमला करता है। हालांकि बाद में लोगों द्वारा शिकायत करने पर उस शख्स को गिरफ्तार किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App