ताज़ा खबर
 

योगी ने मतुआ संप्रदाय को दिया कुंभ में आने का न्योता, ममता बनर्जी को सता रहा वोट बैंक खिसकने का डर?

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पश्चिम बंगाल के मतुआ संप्रदाय को कुंभ मेले में आने का न्योता दिया है। इससे पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को अपना वोट बैंक खिसकने का डर सताने लगा है। टीएमसी के नेताओं ने इस निमंत्रण को राजनीति से प्रेरित बताया है।

Author January 11, 2019 3:52 PM
उत्तर प्रदेश सीएम योगी आदित्यनाथ(file pic)

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पश्चिम बंगाल के मतुआ संप्रदाय को कुंभ मेले में आने का न्योता दिया है। इससे पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को अपना वोट बैंक खिसकने का डर सताने लगा है। टीएमसी के नेताओं ने इस निमंत्रण को राजनीति से प्रेरित बताया है।

74 विधानसभा क्षेत्रों में मतुआ संप्रदाय का प्रभाव : जानकारी के मुताबिक, पश्चिम बंगाल के 74 विधानसभा क्षेत्रों में मतुआ संप्रदाय का प्रभाव है। 2008 के पंचायत चुनावों से इस संप्रदाय का झुकाव तृणमूल कांग्रेस की ओर बढ़ गया था। ऐसे में टीएमसी और बीजेपी दोनों ही दल इस संप्रदाय के लोगों को अपनी ओर खींचने में लगे हुए हैं। वहीं, सीएम ममता बनर्जी खुद भी इस संप्रदाय का खास ख्याल रखती हैं। कुछ दिन पहले ममता ने गाईघाटा के ठाकुरनगर जाकर मतुआ महासंघ की प्रमुख वीणापाणी ठाकुर को ‘बंग विभूषण’ सम्मान दिया था।

बीजेपी ने महासंघाधिपति को भेजा निमंत्रण : यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मतुआ संप्रदाय को इलाहाबाद के कुंभ मेले में आने का निमंत्रण भेजा है। स्थानीय बीजेपी नेतृत्व ने ठाकुरबाड़ी जाकर ‘सारा भारत मतुआ महासंघ’ के महासंघाधिपति मंजुल कृष्ण ठाकुर को निमंत्रण-पत्र सौंपा। हालांकि, इसी नाम से यहां एक और संघ है, जिसकी संघाधिपति बनगांव की तृणमूल सांसद और ठाकुरबाड़ी की बड़ी बहू ममता ठाकुर हैं।

टीएमसी ने साधा निशाना : योगी का यह निमंत्रण तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को रास नहीं आ रहा है। वह इसे राजनीति से प्रेरित बता रही है। टीएमसी सांसद ममता ठाकुर का कहना है कि इतने दिनों तक किसी को मतुआ संप्रदाय की याद नहीं आई। सामने चुनाव है, इसीलिए उन्हें निमंत्रण दिया जा रहा है। इस आमंत्रण पर प्रतिक्रिया देते हुए टीएमसी के जिलाध्यक्ष ज्योतिप्रिय मलिक ने कहा, ‘‘मतुआ संप्रदाय के लोग हमारे साथ हैं। यह बात सीएम बनर्जी की सभा में प्रमाणित भी हो चुकी है। मतुआ संप्रदाय के लोग कुंभ नहीं, बल्कि गंगासागर में पुण्य स्नान करने की कामना रखते हैं।’’

बीजेपी से नजदीकी बढ़ा रहा मतुआ संप्रदाय : बीजेपी के जिलाध्यक्ष प्रदीप बंद्योपाध्याय ने बताया ‘‘योगी आदित्यनाथ ने कुंभ मेले में देश के विभिन्न धर्मीय संगठनों के प्रमुख, मठों के संन्यासियों के साथ-साथ मतुआ महासंघ को भी आमंत्रित किया है। हम मतुआ संप्रदाय को विशेष रूप से मान्यता दे रहे हैं, क्योंकि उनसे हमारी निकटता बढ़ रही है।’’ बता दें कि मंजुल कृष्ण ठाकुर के छोटे बेटे शांतनु की बीजेपी से घनिष्ठता है। वे लोकसभा उप-चुनाव में बीजेपी के टिकट पर अपनी बड़ी मां ममता ठाकुर के खिलाफ चुनाव भी लड़ चुके हैं। निमंत्रण पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए शांतनु ने कहा, ‘‘यूपी के मुख्यमंत्री ने मतुआ संप्रदाय को आमंत्रित किया है। यह बड़ी खुशी की बात है। हम कुंभ में जाने की कोशिश करेंगे।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X