यूपी के CM योगी बोले- पहले हमारी बहन-बेटियां, भैंस-बैल तक नहीं थे सुरक्षित, राज्य की पहचान थीं खराब सड़कें

लखनऊ में आयोजित मीडिया कार्यशाला में बोलते हुए सीएम योगी ने कहा कि पहले प्रदेश में लड़कियों के साथ-साथ बैल और भैंसे भी सुरक्षित नहीं थे। खराब सड़कें प्रदेश की पहचान थीं, लेकिन अब ऐसा नहीं है।

cm yogi bjp media workshop
बीजेपी मीडिया कार्यशाला को संबोधित करते सीएम योगी (फोटो- @swatantrabjp)

उत्तरप्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ, बीजेपी को वापस सत्ता में लाने के लिए लगातार अपने कार्यकाल की उपलब्धियों को जनता के सामने ले कर जा रहे हैं।

इसी क्रम में लखनऊ में आयोजित बीजेपी के मीडिया वर्कशॉप में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले यूपी में बहन-बेटियों के साथ-साथ भैंस और बैल तक सुरक्षित नहीं थे, लेकिन अब ऐसा नहीं है। पहले जहां से खराब सड़कें शुरू हो जाती थी, लोग समझ जाते थे कि यूपी आ गया। पहले की पहचान गड्ढा युक्त सड़के थीं। अब एक्सप्रेस-वे है।

सीएम योगी ने अपने संबोधन में कहा- “पहले जब किसी कार्यकर्ता के यहां रूकना होता था तो सबसे पहले महिलआएं आती थीं, कहती थीं कि क्या उत्तरप्रदेश में सुरक्षा का माहौल हो पाएगा। बेटियां असुरक्षित थीं, बहनें असुरक्षित थीं। और तो और एक सामान्य बैलगाड़ी और भैसावान भी जाता था तो उसके बैल या भैसा भी सुरक्षित नहीं थे”।

उन्होंने आगे कहा – “पूर्वी उत्तरप्रदेश में इस प्रकार की समस्या नहीं थी, लेकिन पश्चिमी उत्तरप्रदेश में ये समस्या थी। क्या आज कोई बैलगाड़ी के बैल, या किसी भैसें को, या किसी बालिका को, या किसी बहनों को कोई जबरन उठा सकता है क्या? आज तो वो अपराधी गले में तख्ती टांग कर थाने में जाते हैं कि साहब बख्श दो, हम सब्जी बेच करके अपने बालक को पाल लेंगे। तो मैंने कहा ये अंतर नहीं दिखाई दे रहा। क्या ये अंतर नहीं है”?

सड़कों पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि पहले उत्तरप्रदेश की पहचान क्या थी… जहां से गड्ढे सड़कों पर शुरू हो जाएं, समझ लो उत्तरप्रदेश है। शाम में जहां से अंधेरा हो जाए, वो उत्तरप्रदेश है। जहां पर कोई भी सभ्य व्यक्ति रात्रि को चलने में भयभीत हो, वह उत्तरप्रदेश है। ये एक तस्वीर प्रस्तुत करता था। नौजवानों के सामने पहचान का एक संकट था, लेकिन आज तो ऐसा नहीं है।

सीएम योगी ने यह भी ऐलान किया कि डिफेंस कॉरिडोर से 50 हजार नौकरियां क्रिएट होंगी। पीएम मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर से सात अक्टूबर तक प्रदेश में कई प्रोग्राम आयोजित किए जाएंगे। सीएम योगी के साथ इस कार्यक्रम में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी मौजूद थे।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।