ताज़ा खबर
 

योगी आदित्‍यनाथ बोले- महान अकबर नहीं, महाराणा प्रताप थे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को कहा कि अतीत से भटका समाज कभी अपने उज्‍जवल भविष्य का आधार नहीं रख सकता।

Author लखनऊ | June 14, 2018 4:19 PM
यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को कहा कि अतीत से भटका समाज कभी अपने उज्‍जवल भविष्य का आधार नहीं रख सकता। हमारा अतीत ही हमें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है और महाराणा प्रताप के जीवन और शौर्य से हमें प्रेरणा लेनी चाहिए। महाराणा प्रताप की जयंती के अवसर पर गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक कार्यक्रम में यह बाते कहीं। उन्होंने कहा, “महान अकबर नहीं, महाराणा प्रताप थे क्योंकि उन्होंने अपने स्वाभिमान के साथ कभी समझौता नहीं किया।”

मुख्यमंत्री ने कहा, “अतीत से भटका समाज कभी अपने उज्‍जवल भविष्य का आधार नहीं रख सकता। हमारा अतीत ही हमें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है और महाराणा प्रताप के जीवन और शौर्य से हमें प्रेरणा लेनी चाहिए।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राणा प्रताप ने अकबर के दूतों को दो टूक कहा था कि विदेशी को हम अपना बादशाह नहीं स्वीकार कर सकते। वनवासी समाज आज भी अपने को राणाप्रताप का वंशज मानते हैं। इस अवसर पर सीएम योगी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र ठाकुर ने पत्रिका युवा शौर्य विशेषांक का विमोचन भी किया।

बता दें कि इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस आलमबाग बसअड्डे का उद्घाटन किया। उन्होंने इस मौके पर परिवहन विभाग की सराहना करते हुए कहा कि पिछले एक वर्ष में विभाग ने काफी अच्छा काम किया था। गौरतलब है कि पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत करीब ढाई करोड़ की लागत से बने इस बस अड्डे में एसी वेटिंग हॉल, निशुल्क ठंडा पेयजल, आरामदायक बेंच, सबवे से प्लेटफार्म रूट, फूडकोर्ट, एटीएम, बैंक, ऑटोमैटिक एनाउसमेंट जैसी सुविधाएं उपलब्ध हैं।

इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने कहा कि परिवहन निगम ने पिछले एक साल में बेहतर काम किया है। इसके चलते यह विभाग फायदे में है। इस दौरान योगी ने कुंभ 2019 के लिए परिवहन निगम की ओर से विशेष सुविधाएं देने का भी ऐलान किया। उन्होंने कहा कि आलमबाग बस अड्डे की तर्ज पर प्रदेश में 21 और बस अड्डों का निर्माण किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App