scorecardresearch

बिहार: CM नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव को बता दिया ‘मुख्यमंत्री’ तो भाजपा ने कहा- आश्रम जाने की तैयारी है

आरजेडी नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि नीतीश कुमार 2025 के विधानसभा चुनाव में जीत के बाद तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाएं और खुद के लिए आश्रम खोल लें। वह आश्रम खोलकर राजनीतिक कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देने की बात कहते रहे हैं इसलिए उन्‍हें आश्रम खोलना चाहिए।

बिहार: CM नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव को बता दिया ‘मुख्यमंत्री’ तो भाजपा ने कहा- आश्रम जाने की तैयारी है
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो – इंडियन एक्सप्रेस)

पटना में एक कार्यक्रम के दौरान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जुबान फिसल गयी। मंगलवार (27 सितंबर) को पटना में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव को खुले मंच से मुख्यमंत्री बताया दिया। सीएम के मुंह से ये बात सुनते ही ना सिर्फ वहां बैठे लोग बल्कि डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव भी हैरान रह गये।

नीतीश कुमार की इस गलती के बाद भाजपा, जेडीयू और आरजेडी के बीच तानों और छींटाकशी का दौर शुरू हो गया। भाजपा ने मुख्यमंत्री पर कटाक्ष करते हुए कहा कि नीतीश के आश्रम जाने का समय आ गया है। दरअसल, पटना के ज्ञान भवन में पशु चिकित्सक पदाधिकारियों और मत्स्य विकास पदाधिकारियों को नियुक्ति पत्र देने का कार्यक्रम चल रहा था। इस दौरान पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी नवनियुक्त पदाधिकारियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया उसके बाद भाषण देने के लिए मंच पर पहुंचे।

तेजस्‍वी यादव को आगे बढ़ाने की कही बात: सबसे पहले तेजस्वी को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि यह हैं माननीय मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव जी। नीतीश कुमार ने साथ में मौजूद उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव की ओर इशारा करते हुए कहा कि अब इन्‍हें आगे बढ़ाना है। साथ ही विपक्ष को एकजुट करने की बात कही। सीएम नीतीश कुमार के द्वारा हुई इस चूक के बाद चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है।

नीतीश कुमार के आश्रम जाने का समय: जिसके बाद सवाल यह उठ रहा है कि क्‍या मुख्‍यमंत्री दिल्ली की राजनीति का रुख कर बिहार की कमान तेजस्‍वी यादव को सौंप देंगे? इन अटकलों पर सत्‍ताधारी दलों जनता दल यूनाइटेड और राष्‍ट्रीय जनता दल ने भी प्रतिक्रियाएं दी हैं। भाजपा प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा, “ऐसा लगता है कि नीतीश कुमार ने जानबूझकर या मन से तेजस्वी को मुख्यमंत्री के रूप में स्वीकार किया है। वास्तव में नीतीश कुमार के आश्रम जाने का समय आ गया है।”

जेडीयू ने बताया स्लिप ऑफ टंग: वरिष्ठ आरजेडी नेता शिवानंद तिवारी ने कहा, “यह स्लिप ऑफ टंग हो सकती है, लेकिन हम इसे भतीजे तेजस्वी यादव के लिए नीतीश कुमार के आशीर्वाद के रूप में लेते हैं, जो निश्चित रूप से बिहार के भावी नेता हैं।” वहीं, इस घटना पर जेडीयू के एक नेता ने कहा, “कुछ भी नहीं समझा जाना चाहिए यह सिर्फ स्लिप ऑफ टंग था। तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने भी एक भाषण के दौरान पंडित जवाहरलाल नेहरू को प्रधानमंत्री के रूप में संबोधित किया था। भाजपा को राजद के साथ हमारे गठबंधन से ईर्ष्या करने दें।”

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 28-09-2022 at 10:54:15 am
अपडेट