ताज़ा खबर
 

यूपी-बिहार वालों को अपने राज्य में नौकरी नहीं देना चाहते कानपुर में जन्मे यह मुख्यमंत्री!

कानपुर में जन्म लेने वाले और देहरादून-कोलकाता में पढ़ाई करने वाले एक सीएम ने कहा कि मेरे राज्य में यूपी वालों को नौकरी में वरीयता नहीं मिलेगी। यह व्यक्ति कोई और नहीं, बल्कि मध्यप्रदेश के नव-निर्वाचित मुख्यमंत्री कमलनाथ हैं।

मध्यप्रदेश के नव निर्वाचित सीएम कमलनाथ

कानपुर में जन्म लेने वाले और देहरादून-कोलकाता में पढ़ाई करने वाले एक सीएम ने कहा कि मेरे राज्य में यूपी वालों को नौकरी में वरीयता नहीं मिलेगी। यह व्यक्ति कोई और नहीं, बल्कि मध्यप्रदेश के नव-निर्वाचित मुख्यमंत्री कमलनाथ हैं। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के उन उद्योगों की मदद की जाएगी, जो 70 फीसदी रोजगार स्थानीय युवाओं को देंगे। यूपी-बिहार वालों की वजह से मध्यप्रदेश के युवाओं के नौकरी के अवसर खत्म हो रहे हैं। हालांकि, कमलनाथ के इस बयान की यूपी-बिहार में काफी आलोचना की जा रही है।

कमलनाथ का जन्म 17 नवंबर 1946 के दिन कानपुर (यूपी) में हुआ था। उन्होंने शुरुआती पढ़ाई के साथ-साथ कानपुर के डीएवी कॉलेज से एलएलबी किया था। इसके अलावा उन्होंने देहरादून के दून कॉलेज में भी पढ़ाई की। वहीं, कलकत्ता विश्वविद्यालय के सैंट जेवियर कॉलेज से बीकॉम किया था। मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा से 9 बार सांसद बन चुके कमलनाथ ने इससे पहले यूपी-बिहार को लेकर ऐसा बयान कभी नहीं दिया था।

 

कमलनाथ ने 17 दिसंबर को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। इसके बाद उन्होंने कहा, ‘‘छूट देने की हमारी नीति उन उद्योगों के लिए होगी, जहां 70 फीसदी रोजगार मध्यप्रदेश के युवाओं को दिया जाएगा। उत्तरप्रदेश और बिहार जैसे राज्यों के लोग मध्यप्रदेश आते हैं, जिससे स्थानीय लोगों को नौकरी नहीं मिलती। इसी वजह से मैंने संबंधित फाइल को मंजूरी दे दी है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App