ताज़ा खबर
 

Delhi: 5वीं कक्षा की छात्रा ने साथ बैठी लड़की की बोतल से पीया पानी और हो गई मौत, जानें पूरा मामला

दिल्ली में एक दिल दहला देने वाला वाकया सामने आया है। यहां पांचवीं क्लास की छात्रा ने स्कूल में गलती से पानी की जगह एसिड पी लिया, जिससे उसकी मौत हो गई।

प्रतीकात्मक फोटो

नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के हर्ष विहार स्थित एक स्कूल में मंगलवार को पानी की जगह तेजाब पीने से 5वीं कक्षा की एक बच्ची की मौत हो गई। यह घटना स्कूल में ही लंच ब्रेक के दौरान हुई। बताया जा रहा है कि पीड़ित बच्ची ने चौथी कक्षा की छात्रा से पानी पीने के लिए उसकी बोतल मांगी थी, जिसमें तेजाब था। हालांकि, चौथी की छात्रा को भी इसकी जानकारी नहीं थी। तेजाब पीते ही 5वीं की छात्रा की हालत बिगड़ गई। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

यह है मामला : पुलिस के मुताबिक, गाजियाबाद के लोनी में रहने वाली संजना (11 वर्ष) दिल्ली के हर्ष विहार स्थित दीप भारती पब्लिक स्कूल में 5वीं की छात्रा थी। इस स्कूल में चौथी और 5वीं कक्षा के बच्चे एक साथ बैठते हैं। संजना मंगलवार को (5 मार्च) स्कूल गई तो वह चौथी कक्षा की एक बच्ची के साथ बैठी थी। बताया जा रहा है कि चौथी कक्षा की वह बच्ची अपने घर से पानी की बोतल की जगह गलती से तेजाब की बोतल उठा लाई थी, जिसकी जानकारी किसी को नहीं थी।

गलत बोतल से हुई दर्दनाक घटना : नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के डीसीपी अतुल कुमार ठाकुर के मुताबिक, यह घटना उस वक्त हुई, जब स्कूल में दो बच्चियां एक साथ खाना खा रही थीं। उन्होंने बताया कि स्कूल में लंच ब्रेक के दौरान संजना ने अपने साथ बैठी बच्ची से पीने के लिए पानी मांगा। उसने तेजाब की बोतल संजना को दे दी, जिसे पीते ही उसके गले में जलन होने लगी और वह चीखने-चिल्लाने लगी। शोर सुनकर स्कूल का स्टाफ कक्षा में पहुंचा, लेकिन तब तक संजना बेहोश हो गई थी। इसके बाद मामले की जानकारी संजना के परिजनों को दी गई। वे बच्ची को सरकारी अस्पताल ले गए, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

पुलिस ने शुरू की जांच : डीसीपी ठाकुर ने बताया कि चौथी कक्षा की बच्ची अपने घर से गलतफहमी में पानी की बोतल की जगह तेजाब की बोतल ले आई थी, क्योंकि दोनों ही बोतलें एक जैसी थी। इस बच्ची की मां ने बताया कि उन्होंने बोतल में टॉयलेट साफ करने वाला एसिड रखा था। डीसीपी के मुताबिक, मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई। इस दौरान स्कूल के स्टाफ से पूछा गया कि उन्होंने मामले की जानकारी पहले पुलिस को क्यों नहीं दी। फिलहाल इस मामले में स्कूल की तरफ से कोई जवाब नहीं आया है। वहीं, डायरेक्टर ऑफ एजुकेशन संजय गोयल का कहना है कि उन्हें इस तरह के किसी मामले की जानकारी नहीं मिली है।

Next Stories
1 कहां तक पहुंची गांवों के विकास की बात
2 दिग्विजय ने विदेशी मीडिया की रिपोर्ट का दिया हवाला, Air Strike की सफलता पर फिर उठाए सवाल
3 दिग्विजय ने पुलवामा को बताया दुर्घटना, रविशंकर बोले- ओसामा को ‘जी’ और हाफिज सईद को ‘साहब’ कहने वालों से क्या उम्मीद करें?
ये पढ़ा क्या?
X